राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत कांगड़ा 16 दिसंबर को तीन दिवसीय दौरे पर

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत 16 दिसंबर को तीन दिवसीय दौरे पर कांगड़ा आएंगे। हिमाचल के इतिहास में साल 1989 के बाद यह दूसरा मौका होगा जब संघ के सरसंघचालक जहां पहुंच रहे हैं। इससे पहले 1989 में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक बाला साहब देवरस कांगड़ा कार्यालय पहुंचे थे। 17, 18 और 19 दिसंबर को मोहन भागवत संघ के स्वयंसेवकों से रू-ब-रू होंगे। इस दौरान सुरक्षा के तगड़े इंतजाम यहां रहेंगे। संघ कार्यालय कांगड़ा में आयोजित कार्यक्रम में उनका बौद्धिक भी होगा। भागवत 16 दिसंबर को कांगड़ा एयरपोर्ट पहुंचेंगे।

वह कांगड़ा में स्वयंसेवकों के योग कार्यक्रम में भी हिस्सा लेंगे। भारत को महाशक्ति नहीं, बल्कि विश्व गुरु बनाने के पक्षधर मोहन भागवत धर्मशाला में पूर्व सैनिकों के साथ भी चर्चा करेंगे। इस दौरान वह शाहपुर में भी स्वयंसेवकों के कार्यक्रम में भी हिस्सा लेंगे। बता दें कि कांगड़ा में मौजूदा समय में चवार शाखाएं लगती है जिसमें करीब 100 स्वयंसेवक हिस्सा लेते हैं। सरसंघचालक के आने की सूचना के बाद वे उत्साहित हैं। उनके दौरे के दौरान हालांकि यहां कोई पथ संचलन वगैरह का कार्यक्रम नहीं है, अलबत्ता उनके उद्बोधन में स्वयंसेवकों से चर्चा की जाएगी। हिमाचल प्रदेश के सह विभाग संघचालक भूषण लेना ने सरसंघचालक मोहन भागवत के कांगड़ा आने की पुष्टि की है। उनके कार्यक्रम के दौरान यहां भाजपा की बड़ी हस्तियों के आने की भी संभावना है।