शिंदे कैंप ने बनाया नया दल

महाराष्ट्र में सियासी खींचातान जारी है। एक तरफ गुवाहाटी में बैठे एकनाथ शिंदे सरकार के खिलाफ बयानबाजी कर रहे हैं तो सीएम उद्धव ठाकरे ने भी बगावत करने वाले विधायकों के खिलाफ सख्त एक्शन की चेतावनी जारी कर दी है। शिवसेना ने आज राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक भी बुलाई है, तो दूसरी तरफ पार्टी के 16 विधायकों को अयोग्य ठहराने को लेकर आज नोटिस जारी हो सकते हैं। इसके खिलाफ एकनाथ शिंदे गुट ने भी महाराष्ट्र विधानसभा के डिप्टी स्पीकर नरहरि जिरवाल के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। ऐसे में सभी की नजरें आज होने वाले घटनाक्रम पर होंगी।

गुवाहाटी में एकनाथ शिंदे की बैठक शुरू

शिवसेना की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बीच असम के गुवाहाटी में रुके एकनाथ शिंदे गुट ने भी बैठक शुरू कर दी है। बताया गया है कि इस बैठक में 40 से ज्यादा विधायक शामिल हुए हैं।

महाराष्ट्र: बागी विधायकों की सुरक्षा वापस लेने के दावों को गृह मंत्री ने किया खारिज

शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे ने शनिवार को आरोप लगाया कि महाराष्ट्र सरकार ने 16 बागी विधायकों के आवास पर उपलब्ध कराई गई सुरक्षा वापस ले ली है। शिंदे ने कहा कि उनकी भी सुरक्षा वापस ले ली गई है और यह “राजनीतिक प्रतिशोध” की भावना से किया गया है। हालांकि, महाराष्ट्र के गृह मंत्री दिलीप वलसे पाटिल ने इससे साफ इनकार किया है। पाटिल ने कहा है कि विधायकों की सुरक्षा पहले की तरह ही बहाल है।