मजबूर और बौखलाए हुए प्रदेश अध्यक्ष है कुलदीप राठौर : कश्यप

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद सुरेश कश्यप ने कहा कि कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप राठौर मजबूर एवं बौखलाए हुए हैं। उन्होंने कहा कि आगामी पंचायती राज चुनावों में कांग्रेस को अपनी करारी हार दिख रही है इसलिए कांग्रेस नेताओं को समझ नहीं आ रहा कि क्या बयानबाजी करनी है। कांग्रेस के सभी नेता आगामी पंचायती राज चुनावों में अपनी साख बचाने में लगे हैं क्योंकि सभी नेताओं की अपनी पंचायतों में उनके समर्थित प्रत्याशियों को करारी हार का सामना करना पड़ेगा।उन्होंने कहा कि जयराम ठाकुर सरकार और उनके अफसरों के बीच अच्छा तालमेल है और यह बात कांग्रेस के नेता पचा नहीं पा रहे हैं।
कांग्रेस के नेताओं को विश्वास नहीं हो रहा है कि हिमाचल प्रदेश में इतनी बेहतरीन सरकार किस प्रकार से चल रही है, इसमें कोई दो राय नहीं है कि प्रदेश में डबल इंजन की सरकार तीव्र गति से चल रही है।उन्होंने कहा कि कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष केवल काल्पनिक घोटालों की बात कर रहे हैं वास्तव में अगर कोई घोटाला हुआ है तो वह सामने लेकर आए। कांग्रेस पार्टी स्वयं भ्रष्टाचार की जननी है और पूर्व में अनेकों भ्रष्टाचार के आरोप उन पर लगते आए हैं , कोयला घोटाला 1.86 लाख करोड़ ,2जी घोटाला 1.76 लाख करोड़, महाराष्ट्र सिंचाई घोटाला 70,000 करोड़, कामनवेल्थ घोटाला 35,000 करोड़, स्कार्पियन पनडुब्बी घोटाला 1,100 करोड़, अगस्ता वेस्ट लैंड घोटाला 3,600 करोड़, टाट्रा ट्रक घोटाला 14 करोड़ , यह जनता भूली नहीं है। 135 वर्षों के अपने लम्बे इतिहास में कांग्रेस आज जन मानस के बीच कमजोर दिख रही है। कांग्रेस राष्ट्र विरोधी , भ्रष्टाचारी एवं परिवारवाद को बढ़ावा देने वाला राजनीतिक दल है।
अगर आज देश और प्रदेश में कोविड-19 संकट काल के समय कांग्रेसी सरकार होती तो खरबों रुपए का घोटाला सामने आता। कोविड-19 संकटकाल में कांग्रेस नेताओं ने केंद्रीय कांग्रेस कमेटी को ही भेज दिया था भारी-भरकम बिल, जो कांग्रेसी नेता अपनी पार्टी को ही भ्रष्टाचार के मामलों में नहीं छोड़ते तो वह देश और प्रदेश को क्या छोड़ेंगे।