मंडी में 1228 पोलिंग पार्टियां मतदान केंद्रों के लिए रवाना

संसदीय क्षेत्र मंडी के उपचुनाव में 30 अक्तूबर को होने वाले मतदान के लिए गुरुवार को जिला मंडी में 1228 पोलिंग पार्टियां मतदान केंद्रों के लिए रवाना होना शुरू हो गई हैं। मतदान केंद्रों में करीब चार हजार पुलिस जवानों का पहरा रहेगा। पांच हजार से अधिक सरकारी अधिकारी और कर्मचारी मतदान केंद्रों में ड्यूटी पर तैनात रहेंगे। मंडी संसदीय क्षेत्र के उपचुनाव में मतदान के लिए 2365 मतदान केंद्र बनाए गए हैं।

इसमें 1228 मतदान केंद्र मंडी जिले में ही हैं। हर पोलिंग बूथ पर करीब 8-8 कर्मचारी तैनात रहेंगे। इनमें हर बूथ पर चार मतदान कर्मियों के अलावा दो सुरक्षा कर्मी, एक बूथ स्तरीय अधिकारी और कोरोना के चलते स्वास्थ्य सुरक्षा नियमों के पालन के लिए एक स्वास्थ्य कर्मी ड्यूटी पर रहेगा। निर्वाचन अधिकारी अरिंदम चौधरी ने बताया कि सुबह पोलिंग पार्टियां रवाना होना शुरू हो गई हैं।

106 बसें रहेंगी बुक, दुर्गम क्षेत्रों से नहीं लौटेंगी बसें
मंडी जिले में 106 बसें चुनावी ड्यूटी के दौरान अधिकारियों-कर्मचारियों को छोड़ने के लिए तैनात रहेंगी। 28 और 30 अक्तूबर को ये बसें अधिकारियों और कर्मचारियों को पोलिंग स्टेशन तक छोड़ेंगी और लाएंगी। संबंधित परिवहन निगम के डिपो से इनकी व्यवस्था होगी। इनमें से कुछ बसें तो कर्मचारियों को छोड़कर लौट आएंगी लेकिन दुर्गम क्षेत्रों में जाने वाली बसें नहीं लौट सकेंगी। ऐसे में ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को इन तीन दिनों में आवागमन के लिए दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

मंडलीय प्रबंधक परिवहन संतोष कुमार ने कहा कि चुनाव आयोग की मांग के बाद बसों और स्टाफ का प्रबंध करने के आदेश दे दिए गए हैं। इस दौरान बसों के साथ 200 से अधिक निगम के चालक-परिचालक भी जाएंगे। लोकल रूट प्रभावित न हों, इसके लिए विशेष बंदोबस्त किए गए हैं।

छह जिलों के करीब 13 लाख वोटर चुनेंगे मंडी का सांसद
मंडी संसदीय क्षेत्र में कुल 1299756 मतदाता हैं। इनमें 638756 महिला मतदाता और 647619 पुरुष मतदाता हैं। सर्विस वोटर की संख्या 13374 हैं। विदेश में रह रहे 2 प्रवासी निर्वाचक हैं। इसके अलावा तीसरे जेंडर के 5 मतदाता हैं।

मंडी संसदीय क्षेत्र के तहत 6 जिलों के कुल 17 विधानसभा क्षेत्र आते हैं, इनमें मंडी के 9 विधानसभा क्षेत्रों के अलावा कुल्लू के चार, शिमला का रामपुर और चंबा के भरमौर क्षेत्र के साथ किन्नौर और लाहौल स्पीति विस क्षेत्र शामिल हैं। मंडी का धर्मपुर क्षेत्र हमीरपुर संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत आता है।