भारत की कमलप्रीत कौर ने डिस्कस थ्रो में बनाई में फाइनल जगह

टोक्यो:  भारत की राष्ट्रीय रिकॉर्ड धारक कमलप्रीत कौर ने यहां शनिवार को टोक्यो ओलंपिक में महिला डिस्कस थ्रो स्पर्धा के फाइनल में जगह बना ली है। अपने ओलंपिक में पदार्पण में २५ वर्षीय कमलप्रीत ने तीसरे प्रयास में ६४ मीटर के प्रत्यक्ष योग्यता चिह्न को पार करते हुए पदक राउंड में जगह पक्की की।

३१ एथलीटों में कमलप्रीत और अमरीका की वैलेरी ऑलमैन ही ऐसी दो एथलीट रहीं, जो क्वालीफाइंग राउंड में ६४ मीटर के चिह्न को पार करने में सफल रहीं। वैलेरी जहां क्वालीफाइंग राउंड में ६६.४२ मीटर के थ्रो के साथ शीर्ष पर रहीं, वहीं कमलप्रीत ६४ मीटर के प्रयास के साथ दूसरे स्थान पर रहीं।

क्रोएशिया की सैंड्रा पेर्कोविक ने ६३.७५ मीटर के थ्रो के साथ तीसरा स्थान हासिल किया। केवल १२ एथलीट ही फाइनल के लिए क्वालीफाई कर पाए, जिसमें वैलेरी और कमलप्रीत को सीधे योग्यता चिह्न को पार करने की बदौलत फाइनल में प्रवेश मिला, जबकि अन्य १० एथलीटों के क्वालीफिकेशन मैदान पर उनके सर्वश्रेष्ठ प्रयासों के आधार पर तय किए गए। भारत की अनुभवी डिस्कस थ्रोअर सीमा पुनिया हालांकि क्वालीफाइंग चरणों में १६वें स्थान पर रहने के बाद पदक राउंड में जगह बनाने में विफल रहीं। चार बार की ओलंपियन सीमा का सर्वश्रेष्ठ थ्रो ६०.५७ मीटर मापा गया। उनका पहला प्रयास फाउल था और उनका आखिरी प्रयास ५८.९३ मीटर था।