भारत-आइसलैंड के बीच तीन समझौतों पर हस्ताक्षर

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद तीन यूरोपीय देशों आइसलैंड, स्विट्जरलैंड और स्लोवेनिया की यात्रा पर हैं. इस दौरे के तहत राष्ट्रपति कोविंद आइसलैंड में हैं जहां दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय बैठक हुई और कुल तीन समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए. राष्ट्रपति ने यूनिवर्सिटी ऑफ आइसलैंड में आयोजित एक कार्यक्रम को भी संबोधित किया.

तीन देशों की विदेश यात्रा के तहत आइसलैंड पहुंचे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का मंगलवार को राजधानी रेग्यविक में औपचारिक और आधिकारिक तौर पर स्वागत किया गया. वहां पर मौजूद बच्चों ने भी राष्ट्रपति का स्वागत किया. इसके बाद दोनों देशों के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की द्विपक्षीय बैठक हुई और कुल तीन समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए. दोनों नेताओं के बीच हुई बैठक में राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय महत्व के विषयों पर बात हुई, तो निवेश व्यापार और तकनीकी सहयोग बढाने के तरीकों पर बात हुई. बैठक के बाद जारी प्रेस बयान में कहा गया है कि दोनों देश वैश्विक आतंकवाद से मुकाबला करने के लिए साथ हैं. दोनों देशों ने आतंकवाद को मानवता के लिए गंभीर खतरा मानते हुए इसके खिलाफ वैश्विक लड़ाई को मजबूत करने के लिए मिलकर काम करने पर प्रतिबद्धता जताई.

इसके साथ ही दोनों देश के बीच यूनिवर्सिटी ऑफ आइसलैंड में हिंदी विभाग खोलने को लेकर भी समझौता हुआ.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने यूनिवर्सिटी ऑफ आइसलैंड में आयोजित एक कार्यक्रम को भी संबोधित किया. अपने संबोधन में राष्ट्रपति ने पर्यावरण संरक्षण के मोर्चे पर भारत में हो रहे काम का खास तौर पर ज़िक्र किया और कहा कि सरकार ने सिंगल यूज प्लासि्टक के खिलाफ अभियान शुरू किया है.

गौरतलब है कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद तीन यूरोपीय देशों आइसलैंड, स्विट्जरलैंड और स्लोवेनिया की यात्रा पर हैं. इस दौरान वह तीनों देशों के शीर्ष नेतृत्व के साथ बातचीत कर द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करेंगे.