भाजयुमो-युकां कार्यकर्ताओं में चले लात-घूंसे, ऊना में सीएम को काले झंडे दिखाने पर विवाद

0
1

धर्मशाला से चंडीगढ़ जाते हुए सीएम जयराम ठाकुर गुरुवार को कुछ देर के लिए ऊना परिधि गृह में रुके। चंडीगढ़ रवाना होने पर मुख्यमंत्री को युवा कांग्रेस ऊना के कार्यकर्ताओं ने इंदिरा स्टेडियम के पास मुख्य मार्ग पर काले झंडे दिखाकर विरोध जताया। वहीं इस मामले को लेकर भाजयुमो व युंका कार्यकर्ताओं में हाथापाई भी हो गई। ऊना-नंगल मार्ग पर इंदिरा स्टेडियम के सामने युकंा व भाजयुमो वर्कर गुत्थमगुत्था हो गए। इससे पहले युवा कांग्रेस के जिलाध्यक्ष राघव ठाकुर,प्रदेश युंका सचिव अखिल अग्रिहोत्री, युवा नेता अमन, अभिनव, तनुज व कुछ अन्य कार्यकर्ताओं ने इंदिरा स्टेडियम के समीप सीएम के काफिले को काले झंडे दिखाएं।

पुलिस ने युकां नेताओं को रोकने का काफी प्रयास किया,लेकिन कार्यकर्ता काले झंडे लहराने में कामयाब रहे। इसी बीच भाजयुमो कार्यकर्ता वहां पहुंचे और दोनो पक्ष एक-दूसरे के विरुद्ध नारेबाजी करने लगे। सीएम को काले झंडे दिखाने से गुस्साए भाजयुमो कार्यकर्ताओं व युकां नेताओं के बीच बहसबाजी शुरू हो गई। इसी बीच वित्तायोग के अध्यक्ष व पूर्व विधायक सतपाल सिंह सत्ती जलग्रां जाते हुए वहां से गुजर रहे थे, तो सड़क पर दोनो पक्षों की बहसबाजी को देखते हुए वह भी रुके। उनके वहां पर पहुंचते ही भाजयुमो कार्यकर्ता उत्तेजित हो गए तथा इसी बीच दोनो पक्षों में बहस लड़ाई में तबदील हो गई। मारपीट के दौरान दोनों पक्ष के युवकों को भी चोटें पहुंची। एएसपी प्रवीण धीमान, डीएसपी कुलविंद्र राणा, एसएचओ सर्वजीत सिंह सहित भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर मौजूद रहा तथा दोनो पक्षों को शांत करवाने की कोशिश में लगे रहे। वहीं, युंका कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ता हरोली ब्लांक कांग्रेस महासचिव त्रिलोचन सिंह, जिला प्रवक्ता वरूण पुरी व अन्य नेता मौके पर एकत्रित हो गए। उन्होंने प्रदेश सरकार व पुलिस प्रशासन के विरुद्ध नारेबाजी भी की तथा आक्रोश जताया। एएसपी प्रवीण धीमान ने कहा कि इस संबध में कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। (एचडीएम)

मारपीट को लेकर दोनों पक्षों का अपना-अपना तर्क
युवा कांग्रेस के जिलाध्यक्ष राघव ठाकुर ने भाजयुमो कार्यकर्ताओं द्वारा उनके व अन्य कार्यकर्ताओ के साथ की गई मारपीट की घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए इसे लोकतंत्र की हत्या करार दिया। उन्होंने कहा कि नेता प्रतिपक्ष के विरुद्ध जारी बयानवाजी के विरोध में युकंा कार्यकर्ताओं ने सीएम को काले झंडे दिखाकर अपना विरोध जताया, लेकिन भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने पुलिस की मौजूदगी से उनके व युकां के अन्य कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट की। उधर, भारतीय जनता पार्टी के जिला प्रवक्ता विनय शर्मा ने कहा कि युकां कार्यकर्ताओं को पुलिस प्रशासन ने इस प्रकार की कार्रवाई न करने को चेताया था। वहीं, इसके बाद युवा कांग्रेस कार्यकर्ता हाथापाई पर उतर आए।

युकां का प्लान
युकां कार्यकर्ताओं ने सीएम जयराम ठाकुर को सर्किट हाउस के बाहर एमसी पार्क पर मुख्य मार्ग पर काले झंडे दिखाने की योजना बनाई थी, लेकिन पुलिस को इसकी भनक लग गई। इसके बाद पुलिस ने युकंा कार्यकर्ताओं को चेताते हुए कड़ी नाकेबंदी की। इस पर वे वहां से चले गए तथा इंदिरा स्टेडियम के समीप उन्होंने सीएम को काले झंडे दिखाए।