बोहली में नाबार्ड द्वारा कार्यशाला आयोजित

राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) द्वारा आज सोलन जिला के बोहली में स्वयं सहायता सूमहों के लिए एक कार्यशाला आयोजित की गई। यह जानकारी नाबार्ड के जिला विकास प्रबन्धक अशोक चैहान ने दी। अशोक चैहान ने कहा कि कार्यशाला में स्वयं सहायता समूहों की अवधारणा पर विस्तार से प्रकाश डाला गया। कार्यशाला में स्वयं सहायता समूहों के पदाधिकारियों के दायित्वि, बही खाता एवं परिचालन इत्यादि में पारदर्शिता पर सारगर्भित जानकारी प्रदान की गई। कार्यशाला में नाबार्ड द्वारा कार्यान्वित की जा रही विभिन्न योजनाआंे की जानकारी भी दी गई। उन्हांेने कहा कि कार्यशाला में प्रतिभागियों को रूरल मार्ट, हाट के साथ-साथ सूक्ष्म उद्यमिता विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम तथा कृषक उत्पादक संगठन के विषय में अवगत करवाया गया।
कार्यशाला में अंजू द्वारा स्वयं सहायता समूहांे के पदाधिकारियों को बही खाता, कार्यवाही रजिस्टर तैयार करने का प्रशिक्षण प्रदान किया गया। यूको आरसेटी के निदेशक रोहित कश्यप ने यूको आरसेटी द्वारा चलाए जा रहे प्रशिक्षण कार्यक्रम की जानकारी प्रदान की। जिला के अग्रणी बैंक यूको बैंक के प्रबन्धक के.के. जसवाल ने कार्यशाला में बैंकों द्वारा कार्यान्वित की जा रही सामाजिक सुरक्षा योजनाओं, अटल पैंशन योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना सहित किसान क्रेडिट कार्ड की जानकारी दी।
कार्यशाला में हिमाचल प्रदेश ग्रामीण बैंक बड़ोग के शाखा प्रबन्धक लविश कपूर, जागृति वेल्फेयर सोसायटी की नेहा ठाकुर सहित विभिन्न स्वयं सहायता समूहों के पदाधिकारी व सदस्य उपस्थित थे।