बद्दी: टैक्सटाइल उद्योग में लगी आग, दस करोड़ का नुक्सान

औद्योगिक क्षेत्र बद्दी स्थित बिरला टैक्सटाइल उद्योग के रॉ मटीरियल यार्ड में शुक्रवार दोपहर करीब 12 बजे को भीषण आग लगने से करोड़ों की कीमत का कच्चा माल जलकर राख हो गया। आग इस कद्र रौद्र रूप धारण कर चुकी थी कि इस पर काबू पाने के लिए दमकल केंद्र बद्दी, नालागढ़ व स्थानीय उद्योगों के फायर टैंडर दोपहर से मशक्कत कर रहे थे, लेकिन देर रात तक आग पर काबू नहीं पाया जा सका था। आग टैक्सटाइल उद्योग में इस्तेमाल होने वाले रॉ मटीरियल में लगी, जिसमें ज्यादातर प्लास्टिक था। इस वजह से कुछ ही पलों में टनों के हिसाब से रॉ मटीरियल  स्वाह हो गया।
हालांकि प्रशासन ने काफी तादाद में रॉ मटीरियल को सुरिक्षत किनारे भी किया, लेकिन इसके बाबजूद मटीरियल का काफी हिस्सा आग की लपटों में स्वाह हो गया। आलम यह रहा कि आगजनी से उठते काले घने धुंए से इलाके में दिन में ही अंधेरा छा गया। धुंए का गुबार  कई किलोमीटर दूर से दिख रहा था। एसडीएम नालागढ़ महेंद्र पाल ने घटना की सूचना मिलते ही घटनास्थल का रूख किया और निरंतर बचाव कार्याें का जायजा लेते रहे। हालांकि आगजनी से किसी तरह का जानी नुकसान नही हुआ है, लेकिन उद्योग प्रबंधन आगजनी की भेंट चढ़ चुके रॉ मटीरियल के नुकसान के आकलन में जुट गया है। प्रारंभिक आकलन के अनुसार खबर लिखे जाने तक करीब दस करोड़ का मटीरियल आग की भेंट चढ़ चुका था। समाचार लिखे जाने तक दमकल कर्मी आग पर काबू करने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन रॉ मटीरियल में प्लास्टिक ज्यादा होने की वजह से आग को फैलने से रोकने में परेशानी आ रही थी।
इस दौरान बद्दी पुलिस की टीम भी घटनास्थल पर मौजूद रही और आग लगने के कारणों की पड़ताल करती रही। दमकल अधिकारी बद्दी कुलदीप कुमार ने बताया कि आग पर काबू पाने में आधा दर्जन से ज्यादा फायर टैंडर लगे है। करीब सात घंटे बीतने के बाद भी आग तेजी से फैल रही है। उन्होंने बताया कि आग लगने के कारणों का फिलहाल पता नहीं चल पाया है। एसडीएम नालागढ़ महेंद्र पाल गुर्जर ने बताया कि आग बिरला टैक्सटाइल उद्योग के रॉ मटीरियल यार्ड में लगी, जिसने टनों के हिसाब से रॉ मटीरियल को स्वाह कर दिया। आगजनी से करीब 10 करोड़ के नुकसान का अनुमान है।