प्रदेश कांग्रेस में पार्टी नेताओं में एकजुटता बरकरार रखना जरुरी : राजीव शुक्ला

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस प्रभारी राजीव शुक्ला बुधवार को जन आक्रोश रैली में पार्टी प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप राठौर और नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री की पीठ थपथपाने के साथ हिमाचल कांग्रेस को एकता का पाठ पढ़ा गए। उन्होंने वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए अभी से कमर कसने के लिए कहा। शुक्ला ने मंच से कांग्रेस विधायकों, पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं से कहा कि वे विधानसभा और नगर निगम चुनाव में जीत के लिए अभी से तैयारियों में जुट जाएं।

प्रदेश कांग्रेस प्रभारी प्रभारी शुक्ला को जिस तरीके से पार्टी की एकजुटता की बात कहनी पड़ी, उसे देखकर लगता है कि वर्तमान में प्रदेश कांग्रेस के भीतर सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। अगर पार्टी नेताओं में एकजुटता बरकरार है तो प्रभारी शुक्ला को मंच से एकजुटता का पाठ पढ़ाने की जरूरत नहीं पड़ती।

यानी, पार्टी नेताओं के बीच चल रही खींचतान से हाईकमान भी अवगत हो चुका है। इसी वजह से ही मंच से एकजुटता की बात शुक्ला को कहनी पड़ी। खैर, अब देखना यह है कि राजीव शुक्ला के एकता के पाठ पढ़ाने का असर पार्टी नेताओं और पदाधिकारियों में किस कद्र पड़ता है।