पांवटा साहिब में हर तीन माह के बाद ग्राम पंचायत स्तर पर जनसमस्याओं को सुना जाएगा : सुखराम चौधरी

पांवटा साहिब : ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी ने कहा कि पांवटा साहिब विधानसभा क्षेत्र में हर तीन माह के बाद ग्राम पंचायत स्तर पर जनसमस्याओं को सुना जाएगा और उनका निराकरण किया जाएगा।ऊर्जा मंत्री आज पांवटा साहिब विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत ब्यास कोटरी, कुंडियों और जामनी वाला में बिजली, पानी और सड़क आदि से जुड़ी जनसमस्याओं को सुन रहे थे। उन्होंने मौके पर ही अधिकतम शिकायतों का निपटारा किया।उन्होंने बताया कि पिछले तीस वर्षों में पांवटा साहिब विधानसभा क्षेत्र में लगभग 90 प्रतिशत विकास कार्य भाजपा की सरकार में हुए हैं। उन्होंने बताया कि ब्यास कोटरी पूल का शिलान्यास पूर्व भाजपा सरकार के कार्यकाल में किया गया तथा बात्तापूल से ब्यास कोटरी की सड़क का कार्य भी भाजपा सरकार द्वारा किया गया। उन्होंने लोगों से कहा कि वह जो भी विकास कार्य करवाना चाहते है उसका प्रस्ताव उन्हें पंचायतों के माध्यम से भेजें ताकि इस क्षेत्र का कोई भी हिस्सा विकास से अछूता न रहे।

तीन पंचायतों में मौके पर निपटाई सैकड़ों जन समस्याएं

उन्होंने बताया कि पांवटा साहिब विधानसभा क्षेत्र के लिए नाबार्ड से 120 करोड़ रुपये की राशि प्राप्त हुई थी जिसमें से 70 करोड़ खर्च की जा चुकी है और जल्द ही शेष राशि का उपयोग भी विकास कार्यों के लिए किया जाएगा।ऊर्जा मंत्री ने बताया कि पानी की समस्या के निदान के लिए पिछले तीन वर्षों के दौरान पांवटा साहिब विधानसभा क्षेत्र में 180 ट्यूबवेल स्वीकृत करवाए गए हैं। उन्होंने बताया कि पिछले 70 सालों में पांवटा साहिब क्षेत्र की सड़कों की एफआरए स्वीकृति प्राप्त नहीं हुई थी। लेकिन ऊर्जा मंत्री ने कोरोना काल में प्राप्त हुई 23 सड़कों की एफआरए स्वीकृति संबंधी प्रस्तावों को स्वीकृत करवाकर दिया है तथा इन सभी सड़को पर कार्य आने वाले दिनों में शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि अगर और सड़कों की भी एफआरए स्वीकृति की आवश्यकता होगी तो वह उसके लिए भी प्रयास करेंगे। उन्होंने बिजली विभाग को जामनीवाला, ब्यास कोटरी और कुंडियों पंचायत में बिजली से संबंधित सभी कार्य बरसात के मौसम के बाद पूर्ण करने के आदेश दिए। उन्होंने कहा कि कुण्डियों ग्राम पंचायत में 24 घण्टे पीने का पानी और सिंचाई सुविधा मुहैया करवाई जाएगी।

उन्होंने बताया कि पांवटा विधानसभा क्षेत्र के तहत 10800 गैस कनेक्शन हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना के तहत वितरित किए गए है जिसमे से ब्यास कोटरी ग्राम पंचायत में 216 लोगों को इस योजना का लाभ मिला है। इसके अतिरिक्त प्रदेश सरकार ने 80 से 70 वर्ष आयु सीमा करके बुजुर्गों को पेंशन सुविधा दी है, जिसमें उन्हें प्रतिमाह 1500 रुपये दिए जा रहे है। अभी तक प्रदेश सरकार ने पेंशन पर 840 करोड़ रुपये व्यय किए हैं। इसके अतिरिक्त सरकार ने 65 वर्ष से अधिक आयु वर्ग की महिलाओं के लिए बिना किसी शर्त के पेंशन सुविधा शुरू की है।ऊर्जा मंत्री ने बताया कि हिमाचल प्रदेश सरकार ने पांवटा साहिब क्षेत्र में 35 हजार क्विंटल गेहूं की खरीद अच्छे दामों पर की है और धान की खरीद भी पांवटा साहिब क्षेत्र में ही हो ऐसे प्रयास किए जाएंगे।उन्होंने कहा कि कोरोना काल के दौर में भाजपा सरकार ने बेहतरीन कार्य किया है। लोगों की सुविधा के लिए पांवटा विधानसभा क्षेत्र में कोरोना मरीजों के लिए 477 बेड की व्यवस्था विभिन्न स्वास्थ्य संस्थानों में की गई थी।

उन्होंने लोगों से अपील की कि सभी ग्राम पंचायतें शत प्रतिशत वैक्सीनेशन करवाना सुनिश्चित करें तभी इस कोरोना संक्रमण से बचा जा सकता है।इस अवसर पर बीडीसी चेयरमैन हितेंद्र कुमार, एसडीएम पांवटा साहिब विवेक महाजन, तहसीलदार पांवटा साहिब वेद प्रकाश अग्निहोत्री, बीडीओ गौरव धीमान, अधीक्षण अभियन्ता जल शक्ति विभाग जे0 एस0 चौहान, अधीक्षण अभियन्ता विद्युत विभाग मनदीप सिंह, ग्राम पंचायत ब्यास के प्रधान सुरेश कुमार, ग्राम पंचायत कुड़ियों की प्रधान सबीना बेगम, ग्राम पंचायत जामनीवाला के प्रधान बलबीर धीमान, उपप्रधान अनिल कुमार सहित अन्य लोग भी उपस्थित रहे।