‘पराक्रम दिवस’ के रूप में मनाया जायेगा नेताजी सुभाष चंद्र बोस का जन्मदिन

सरकार ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जन्मदिन 23 जनवरी को हर वर्ष ‘पराक्रम दिवस’ के रूप में मनाने का निर्णय किया है। नई दिल्ली में संवाददाताओं को इस आशय की जानकारी देते हुए संस्कृति मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोलकाता में पराक्रम दिवस समारोह में भाग लेंगे और वहां एक प्रदर्शनी का उद्घाटन करेंगे। उन्होंने कहा कि पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान नेताजी के जन्मस्थान पर ओडिशा के कटक में एक कार्यक्रम में भाग लेंगे। संस्कृति मंत्री ने कहा है कि गुजरात के हरिपुरा में एक और कार्यक्रम की योजना है, जहां 1938 में नेताजी कांग्रेस के अध्यक्ष चुने गए थे।

संस्कृति मंत्री श्री पटेल ने कहा कि सरकार नेताजी की 125वां जयंती वर्ष राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मनाएगी। उन्होंने बताया कि नेताजी की जयंती मनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया गया है। यह समिति 23 जनवरी से शुरू होने वाले एक वर्ष की गतिविधियों का निर्णय करेगी। उन्होंने कहा कि कई मंत्रालयों और विभागों ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती मनाने के लिए विभिन्न गतिविधियां आयोजित करने की योजना बनाई है।