नॉन बोर्ड कक्षाओं पहली से नवीं और 11वीं का परीक्षा परिणाम ऑनलाइन जारी होगा

प्रदेश के सरकारी स्कूलों की नॉन बोर्ड कक्षाओं पहली से नवीं और 11वीं का परीक्षा परिणाम ऑनलाइन जारी होगा। चार अप्रैल तक प्रदेश में स्कूलों को बंद करने के फैसले के चलते अब 31 मार्च को व्हाट्सएप ग्रुपों के माध्यम से ही शिक्षक रिपोर्ट कार्ड भेजेंगे। इसके अलावा स्कूलों के नोटिस बोर्ड पर भी परीक्षा परिणाम चस्पां किए जाएंगे। अभिभावक स्कूलों में आकर परिणाम देख सकेंगे। पांच अप्रैल को स्कूल खुलने पर विद्यार्थियों को रिपोर्ट कार्ड दिए जाएंगे।

दस अप्रैल तक सरकारी स्कूलों में दाखिलों की प्रक्रिया चलेगी। हालात सामान्य रहने पर 11 अप्रैल से स्कूलों में नया शैक्षणिक सत्र शुरू होगा। पहली से चौथी कक्षा के स्कूल 31 मार्च तक पहले ही बंद रखे गए थे। पांचवीं से बारहवीं कक्षा की अभी कक्षाएं लग रही हैं। प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामलों के बढ़ने पर सरकार ने चार अप्रैल तक सभी स्कूलों को बंद रखने का फैसला लिया है। प्रदेश के सरकारी स्कूलों में सभी नॉन बोर्ड कक्षाओं की परीक्षाएं हो चुकी हैं।

31 मार्च को इनका परीक्षा परिणाम जारी होना है। ऐसे में अभी विद्यार्थी स्कूलों में नहीं आ रहे हैं। ग्रीष्मकालीन स्कूलों में शिक्षा निदेशालय ने बीते दिनों आदेश जारी कर एक से चार अप्रैल तक छुट्टियां घोषित की हैं। शीतकालीन स्कूलों में यह छुट्टियां नहीं दी थी। सभी स्कूलों में दस अप्रैल तक दाखिलों की प्रक्रिया पूरी करने को कहा गया है। 11 अप्रैल से नया शैक्षणिक सत्र शुरू करने की तैयारी है। उधर, शीतकालीन जिलों के निजी स्कूलों में नया शैक्षणिक सत्र शुरू हो चुका है। ऐसे में यह स्कूल अब चार अप्रैल तक पूरी तरह से बंद रहेंगे।

स्कूलों में मिड-डे मील परोसने पर एक माह और लगेगी रोक
सरकारी स्कूलों में पहली से आठवीं कक्षा के विद्यार्थियों को परोसे जाने वाले मिड-डे मील की योजना पर एक माह और रोक लगाई जाएगी। प्रारंभिक शिक्षा निदेशालय ने सरकार को इस बाबत प्रस्ताव भेज दिया है। मार्च की तरह अप्रैल में भी विद्यार्थियों को सूखा राशन और कुकिंग कॉस्ट दी जाएगी। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए निदेशालय ने यह फैसला लिया है।