देश में कोविड टीकाकरण का अगला चरण आज से

पूरे देश में कोविड टीकाकरण के दूसरे चरण के तहत आज से वरिष्‍ठ नागरिकों और 45 वर्ष से ऊपर के बीमार लोगों को टीका लगाने का कार्य शुरू हो रहा है। इसके लिए पंजीकरण आज सुबह नौ बजे से वेबसाइट www.cowin.gov.in पर होगा।

सभी संबंधित नागरिक कोविन-2.0 पोर्टल या आरोग्‍य सेतु ऐप का इस्‍तेमाल कर कहीं से भी टीकाकरण के लिए पंजीकरण कराकर टीका लगवाने के लिये समय ले सकते हैं। दस हजार सरकारी अस्‍पतालों में यह वैक्‍सीन मुफ्त लगायी जायेगी जबकि करीब बीस हजार निजी टीकाकरण केन्‍द्रों पर वैक्‍सीन का खर्च लोगों को वहन करना होगा।

टीकाकरण अभियान के तहत निजी अस्‍पताल कोविड-19 वैक्‍सीन के लिए दौ सौ पचास रुपये प्रति डोज तक ले सकते हैं। केन्‍द्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने कहा कि राज्‍य सरकारों को स्‍वास्‍थ्‍य बीमा योजना के तहत सूचीबद्ध सभी निजी अस्‍पतालों को कोविड टीकाकरण केन्‍द्र बनाने की छूट होगी। राज्‍य सरकारें सभी सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों के स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्रों और सभी सरकारी स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्रों का इस्‍तेमाल कोविड टीकाकरण केन्‍द्र के रूप में कर सकती हैं।

सभी राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों को पंजीकरण की प्रक्रि‍या के तीनों तरीकों के बारे में बताया जा चुका है। पहले तरीके के अनुसार सभी लाभार्थी स्‍वयं कोविन-2.0 पोर्टल और आरोग्‍य सेतु ऐप के जरिये स्‍वयं पंजीकृत करा सकते हैं। इसके कोविड टीकाकरण केन्‍द्र के रूप में दर्ज सभी सरकारी और निजी अस्‍पतालों में उपलब्‍ध तारीख और समय का पता चल जाएगा। सभी लाभार्थी अपनी सुविधा अनुसार कोविड टीकाकरण केन्द्र चुन सकते हैं और टीका लगवाने का समय प्राप्‍त कर सकते हैं। प्रत्‍येक डोज के लिए एक व्‍यक्‍ति एक बार समय ले सकता है। किसी भी तारीख में समय लेने की प्रक्रिया तीन बजे बंद हो जायेगी।

दूसरे तरीके में जो लोग खुद पंजीकृत नहीं कर सकते उन्‍हें पंजीकरण के लिए कोविड टीकाकरण केंद्र जाना होगा और उसके बाद वे पंजीकरण कराकर टीका लगवा सकते हैं। तीसरी प्रक्रिया के तहत राज्‍यों और केन्‍द्र शास‍ित प्रदेशों की सरकारें टीकाकरण के लिए मानदंड तय करेगी। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने सभी राज्‍यों को इसके बारे में विस्‍तार से बताया है कि कोविड टीकाकरण केन्‍द्र के रूप में कार्य कर रहे सभी निजी अस्‍पताल प्रत्‍येक व्‍यक्ति से प्रति डोज दो सौ पचास रुपये से ज्‍यादा नहीं ले सकते हैं। इस राशि का भुगतान इलैक्‍ट्रोनिक माध्‍यम से ही किया जा सकता है।

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने सभी निजी स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्रों से कहा है कि वे कोविड 19 से संबंधित सभी सावधानियो का पालन करें। सभी निजी अस्‍पतालों के पास पर्याप्‍त जगह, सभी तरह की सुविधा, टीका लगाने वालों की संख्‍या और संबंधित कर्मचारियों सहित सभी व्‍यवस्‍थाएं होनी चाहिए।

45 से 59 वर्ष के आयु वर्ग के बीस चिन्हित रोगों से ग्रस्‍त लोगों के सत्‍यापन की सरल प्रक्रि‍या के बारे में राज्‍यों को अवगत कराया जा चुका है। एक पन्‍ने का यह प्रमाणपत्र संबंधित पंजीकृत च‍िकित्‍सा अधिकारी से सत्‍यापित होना चाहिए। इस प्रमाणपत्र को कोविन-2.0 पर खुद अपलोड किया जा सकता है या फिर इसकी एक प्रति लाभार्थी स्‍वयं कोविड टीकाकरण केन्‍द्र पर ले जा सकते हैं।