दिल्ली बंद होने से गिर रहे भाव, रुकी आलू की पटाई

दिल्ली बंद होने से किसानों की आलू फसल के भाव लगातार गिर रहे हैं। बड़े किसानों ने आलू की पटाई रोक दी है। हालांकि, कुछ किसान मौसम के रुख को देखते हुए आलू की पटाई कर रहे हैं। आलू की पटाई रुकने से दोबारा मूल्य बढ़ने के किसान अनुमान लगा रहे हैं। वर्तमान में जिले में 700 से 800 रुपये प्रति 50 किलो बैग के अनुसार किसानों को फसलों के भाव मिल रहे हैं।

हरोली के किसान होशियार सिंह ने बताया कि दिल्ली की मंडियों में आलू की खपत अधिक है, लेकिन आंदोलन के कारण किसानों की फसलें दिल्ली नहीं पहुंच पा रही हैं। इससे आलू की खपत कम हो गई है। इससे किसानों को इसका नुकसान झेलना पड़ रहा है। उन्होंने केंद्र सरकार से किसानों की मांगों को पूरा करने की मांग की है, जिससे उनकी फसलों का अच्छा भाव मिल सके।
मौसम विशेषज्ञ विनोद कुमार शर्मा ने कहा कि जिले में बारिश होने के अभी कोई आसार नहीं हैं। हालांकि, ऊंचे इलाकों में मौसम खराब हो सकता है।
कृषि उपनिदेशक डॉ. अतुल डोगरा ने कहा कि आलू की फसल के लिए दिल्ली एक बड़ी मार्केट है। जिले के किसान अपनी आलू फसल की पटाई कर लें, अन्यथा उन्हें अधिक नुकसान झेलना पड़ सकता है।