तीन महीने में होगा दौलतपुर-तलवाड़ा रेललाइन का भूमि अधिग्रहण का काम

दौलतपुर से तलवाड़ा रेललाइन के लिए भूमि अधिग्रहण का काम पूरा करने के लिए जिला प्रशासन ने तीन महीने का लक्ष्य रखा है। हालांकि, पंजाब में अभी तक रेललाइन के लिए भूमि अधिग्रहण का कार्य शुरू नहीं हो पाया है, लेकिन हिमाचल में दौलतपुर से तलवाड़ा रेललाइन के लिए 87.8 प्रतिशत भूमि अधिग्रहण का काम पूरा कर लिया गया है। दौलतपुर से तलवाड़ा रेललाइन के लिए 7-3788 हेक्टेयर भूमि रेलवे के नाम होनी थी।

इसमें 6-20-47 हेक्टेयर भूमि रेलवे के नाम हो चुकी है। इसमें 2670 वर्ग मीटर स्वास्थ्य विभाग तथा लोक निर्माण विभाग की सरकारी भूमि है। इसकी एनओसी दी जाएगी। रेललाइन के लिए मात्र 12.2 प्रतिशत जिसमें 9242 वर्ग मीटर निजी भूमि का अधिग्रहण होना बाकी है। 12.2 प्रतिशत भूमि में करीब 70 लोगों की हिस्सेदारी है।

इसमें कुछ के कोर्ट केस चल रहे हैं तो कई लोग मुंबई सहित अन्य शहरों में बाहर रह रहे हैं। कोरोना के चलते कई बाहरी राज्यों से घर नहीं लौट पाए। इस कारण अभी शेष जमीन अधिग्रहण होना बाकी है। जिला प्रशासन ने तीन माह में दौलतपुर चौक-तलवाड़ा रेललाइन के लिए पंजाब बॉर्डर तक शेष बची 12.2 प्रतिशत भूमि का अधिग्रहण करने का लक्ष्य रखा है।

उधर, उपायुक्त राघव शर्मा ने कहा कि क्षेत्र के कई लोग बाहरी राज्यों में होने के कारण अभी तक 12.2 प्रतिशत भूमि का अधिग्रहण होना बाकी है। जल्द भूमि अधिग्रहण के लिए एक तिथि निश्चित की जाएगी। इसके बाद तीन महीने तक अगर कोई नहीं आता है तो कंपलसरी एग्जीवेशन कर शेष बची जमीन के हिस्सेदारों के खाते में राशि डालकर जमीन रेलवे के नाम कर दी जाएगी।