जिला स्तरीय कोविड-19 टीकाकरण अभियान, 337 चिकित्सा कर्मियों का टीकाकरण किया गया

कोविड-19 टीकाकरण अभियान के तहत आज सोलन जिला के 12 चिन्हित चिकित्सा संस्थानों में 337 पंजीकृत चिकित्सा कर्मियों का टीकाकरण किया गया। यह जानकारी आज यहां जिा स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. मुक्ता रस्तोगी ने दी।उन्होंने कहा कि आज क्षेत्रीय अस्पताल सोलन में 20, एमएमयू कुम्हारहट्टी में 48, टी.बी.एस धर्मपुर में 37, इएसआई अस्पताल परवाणु में 51, आयुर्वेदिक अस्पताल सोलन में 10, मल्होत्रा अस्पताल बद्दी में 40, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र नालागढ़ में 38, इएसआई अस्पताल काठा में 20, लार्ड महावीर नर्सिंग काॅलेज नालागढ़ में 08, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पट्टा महलोग में 15, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र धुन्धन में 22 तथा अर्की में 28 पंजीकृत चिकित्सा कर्मियों का टीकाकरण किया गया।

उन्होंने कहा कि सभी लाभार्थियों को इस सम्बन्ध में सूचित कर दिया गया था तथा सभी को सत्यापन उपरान्त ही कोविड-19 से बचाव के लिए टीका लगाया गया। लाभार्थियों को 30 मिनट के लिए निगरानी में रखा गया। यहां उनके सभी आवश्यक चिकित्सीय मानदण्डों की जांच गई। उन्होंने कहा कि किसी भी लाभार्थी में टीकाकरण का कोई प्रतिकूल प्रभाव नहीं पाया गया।

डाॅ. मुक्ता रस्तोगी ने कहा कि 28 दिन के उपरान्त प्रथम चरण में टीकाकरण करवाने वाले सभी लाभार्थियों का द्वितीय टीकाकरण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पूर्ण टीकाकरण के लगाभग 06 सप्ताह के बाद रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित होगी। उन्होंने सभी से आग्रह किया कि कोविड-19 से बचाव के लिए सार्वजनिक स्थानों पर नाक से ठोडी तक कवर करते हुए मास्क पहनें, सोशल डिस्टेन्सिग नियम का पालन करें और बार-बार अपने हाथ साबुन से धोएं या एल्कोहल युक्त सेनिटाईजर से साफ करें।