जम्मू कश्मीर : पुंछ में 60 घंटे के भीतर आतंकियों का सुरक्षाबलों पर दूसरा बड़ा हमला, एक जेसीओ समेत दो जवान शहीद

फाइल फोटो

पुंछ जिले में 60 घंटे के भीतर वीरवार की शाम आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर दूसरा बड़ा हमला किया, जिसमें सेना के एक जेसीओ समेत दो जवान शहीद हो गए। सेना के सूबेदार और सिपाही हमले में गंभीर रूप से जख्मी हो गए जिन्होंने बाद में दम तोड़ दिया। दो अन्य जवानों के घायल होने की सूचना है।

हालांकि, सैन्य प्रवक्ता का कहना है कि दो जवान गंभीर रूप से जख्मी हुए हैं। ऑपरेशन जारी है। आतंकियों ने यह हमला जिले के मेंढर सबडिवीजन के गुरसाई क्षेत्र में जम्मू-पुंछ राष्ट्रीय राजमार्ग पर भाटादूड़ियां इलाके में किया।

जिस समय हमला हुआ उस समय सेना की 48 आरआर, 16 आरआर और एसओजी इलाके में तलाशी अभियान चला रहे थे। अंधेरा होने के कारण सुरक्षाबलों ने पूरे क्षेत्र की घेराबंदी कर रखी है ताकि आतंकियों को भागने का मौका न मिल सके। इसके लिए सुरक्षाबल समय-समय पर क्षेत्र में रोशनी गोलों का भी प्रयोग कर रहे हैं। उधर इस आतंकी हमले के बाद पुंछ-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर सुरनकोट से बिंबरगली के बीच सभी प्रकार के वाहनों की आवाजाही रोक दी गई है।

इससे पहले सोमवार सुबह जिले की सुरनकोट तहसील के चमरेड़ जंगल में आतंकियों की ओर से घात लगा कर किए गए हमले में सेना की 16 आरआर का एक जेसीओ और चार जवान शहीद हो गए थे। उसके बाद पिछले 60 घंटे से सुरक्षाबल चमरेड़ से लेकर देहरागली में आतंकियों के खिलाफ सर्च अभियान चला रहे हैं।

दोपहर को जिले के मेंढर सब डिवीजन के भाटादूड़ियां में आतंकियों की मौजूदगी की सूचना पर तलाशी अभियान चलाया गया था। शाम करीब सवा पांच बजे भाटादूड़ियां जंगल में जब सुरक्षाबल तलाशी अभियान चलाते हुए पहुंचे तो आतंकियों ने अचानक उन पर हमला कर दिया।

मौके पर बुलाई गई अतिरिक्त फोर्स
घटना के बाद अतिरिक्त फोर्स मौके पर बुला ली गई है। पूरे इलाके की सघन घेराबंदी है। पूरे इलाके में फ्लड लाइट स्थापित कर दिए गए हैं।