चिंताजनक: महामारी में खानपान की आदत बिगड़ने से बच्चों में सामने आ रही मोटापे की बीमारी

कोरोना महामारी के बीच बच्चों में मोटापा गंभीर समस्या बनती जा रही है अमेरिका में बच्चों में महामारी के बीच मोटापा बढ़ता देख सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रीवेंशन (सीडीसी) चिंतित है। वहीं भारत में भी विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना महामारी के कारण से बच्चों के जीवन में आए अचानक बदलाव से बच्चों में मोटापे की बीमारी बढ़ रही है, जो भविष्य के लिए चिंता की बात है।

10 में से 2 बच्चों का वजन महामारी में सामान्य से अधिक हुआ
लखनऊ के डॉक्टर राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान की बाल रोग विशेषज्ञ डॉक्टर दीप्ति अग्रवाल का कहना है कि कोरोना के दौर में 10 में से 2 बच्चों का वजन सामान्य से अधिक हुआ है। महामारी के दौर में बच्चों का खानपान भी बिगड़ा है। स्कूल बंद होने के कारण बच्चे काफी समय से घर पर हैं।

10 में से 5 बच्चों का खानपान बिगड़ा जो चिंताजनक स्थिति
माना जा रहा है कि हर 5 में से 2 बच्चों का खानपान बिगड़ा है जिसके कारण वजन बढ़ने के साथ ही पहले की तुलना में अधिक आलसी हो गए हैं। केजीएमयू के पल्मोनरी क्रिटिकल केयर एक्सपर्ट डॉ वेद प्रकाश बताते हैं की मोटापा अधिक होगा, तो बच्चे की शारीरिक क्रिया उतनी ही खराब होगी। ऐसे बच्चों में सांस संबंधी तकलीफ का खतरा ज्यादा रहता है। कोरोना वायरस जो सांस संबंधी तकलीफ का कारण है, वह मुश्किल खड़ी कर सकता है।
आगे पढ़ने के लिए लॉगिन या रजिस्टर करें