चंबा: सैंकड़ों भेड़-बकरियों की आसमानी बिजली गिरने से मौत

हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले में भूस्खलन से सड़कें बंद हो गई हैं। मिली जानकारी के मुताबिक चंबा-सिल्लाघराट मार्ग पर मरेडी के पास अचानक भारी मात्रा में मलबा सड़क पर आ गिरा। जिससे सड़क बंद हो गई। गनीमत रही कि इस दौरान कोई वाहन सड़क से गुजर नहीं रहा था।

ऐसे में बड़ा हादसा हो सकता था। सड़क बंद होने से वाहनों के पहिए थम गए हैं। सूचना मिलने के बाद लोनिवि के कर्मचारी मशीनरी के साथ सड़क को बहाल करने में जुटे हुए हैं। वहीं शिमला जिले में आसमानी बिजली ने कहर बरपा दिया है।

चिड़गांव की ग्राम पंचायत सिदासलीम में आसमानी बिजली गिरने से सैंकड़ों भेड़-बकरियों की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि आसमानी बिजली उस समय गिरी जब गांव के लोगों को भेड़-बकरियों को जंगल में चरने के लिए छोड़ रखा था। ग्रामीणों ने प्रशासन से उचित मुआवजे की मांग की है।

वहीं चंडीगढ़-मनाली एनएच-205 पर छडोल के समीप भूस्खलन के साथ आए पत्थरों की चपेट में आने से एक ट्रक चालक बुरी तरह से घायल हो गया जिसे क्षेत्रीय अस्पताल बिलासपुर से पीजीआई चंडीगढ़ रेफर कर दिया गया है। ट्रक चालक की पहचान रामपाल पुत्र कृष्ण लाल निवासी जेजवीं (खेडी) तहसील घुमारवीं जिला बिलासपुर के रूप में हुई है।