चंद्रयान-2 चंद्रमा की सतह पर 7 सितंबर को करेगा ‘सॉफ्ट लैंडिंग’

चंद्रयान-2 के लैंडर ”विक्रम” को निचली कक्षा में लाने के बाद यह चंद्रमा के और नजदीक पंहुच गया, जहां से यह अंतत: नीचे की ओर आगे बढ़ते हुए 7 सितंबर को चंद्रमा की सतह पर ऐतिहासिक ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ करेगा.

चंद्रमा की सतह पर ‘चंद्रयान-2’ के उतरने का सीधा नजारा देखने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बेंगलुरु स्थित इसरो केंद्र में मौजूद रहेंगे.

‘चंद्रयान-2’ के चांद पर उतरने के साथ ही रूस, अमेरिका और चीन के बाद भारत वहां ‘सॉफ्ट लैंडिंग करने वाला दुनिया का चौथा और चंद्रमा के अनदेखे दक्षिणी ध्रुव क्षेत्र में उतरने वाला दुनिया का पहला देश बन जाएगा.