घर के पास से एक लड़की को उठा ले गया तेंदुआ

सोलन: जिला सोलन में घर के पास से तेंदुआ एक लड़की को उठा ले गया है। पिता ने तेंदुए को देख लिया व अपनी जान की परवाह न करते हुए खूंखार जानवर से अकेला ही भिड़ गया। घर से करीब 200 मीटर की दूरी पर पीछा करते हुए व्यक्ति ने तेंदुए को रोक लिया व डंडे और पत्थरों से उस पर हमला कर दिया।

जानकारी के अनुसार कसौली क्षेत्र के तहत जाबली पंचायत में यह मामला पेश आया है। सूजी गांव में 25 वर्ष की युवती को तेंदुआ घर के पास से उठाकर ले गया। बताया जा रहा है कि सोमवार शाम करीब सात बजे पूजा अपने घर बाहर बने शौचालय के लिए निकली थी। इस दौरान घर के आंगन में तेंदुआ पहले से ही हमले की फिराक में बैठा था। मौका पाते ही खूंखार जानवर लड़की को आंगन से उठाकर ले गया।

शोर मचाने पर लड़की के पिता खेम राज बाहर निकले और तेंदुए का पीछा करने लगे। खेमराज ने पत्थर व डंडों से तेंदुए पर हमला किया। अपनी जान दांव पर लगाकर पिता ने बड़ी मुश्किल से बेटी को बचाया। हैरानी की बात है कि इस घटना के करीब आधे घंटे बाद तेंदुआ फिर उसकी जगह वापस पहुंच गया।

इस दौरान ग्रामीणों ने बड़ी मुश्किल से तेंदुए को पत्थर व डंडों से भगाया। बताया जा रहा है कि कई दिनों से गढख़ल, कसौली व सूची गांव के आसपास नर व मादा तेंदुए बच्चों सहित घूम रहे हैं। ग्रामीणों ने तेंदुए का पूरा परिवार क्षेत्र में देखा है। इसके बाद अब पूरा क्षेत्र दहशत में है। जाबली पंचायत की प्रधान कल्पना ने बताया इस घटना की सूचना वन विभाग को दे दी गई है व वन विभाग के अधिकारियों द्वारा तेंदुए को पकडऩे का प्रयास किया जा रहा है।