कोविड 19 टीकाकरण: देर रात तक -4 डिग्री तापमान में टॉर्च की रोशनी में लग रही वैक्सीन

जिला लाहौल-स्पीति में मंगलवार देर रात माइनस 4 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान में भी स्वास्थ्य कर्मचारियों ने टॉर्च और मोबाइल फोन की रोशनी में लोगों को कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लगाई। खून जमा देने वाली सर्दी में भी स्वास्थ्य कर्मियों का हौसला कम नहीं हुआ है।

स्वास्थ्य विभाग की वैक्सीनेशन की इस टीम में पीएचसी जाहलमा में तैनात डॉ. गौरव राणा, पीएचसी फूड़ा में तैनात महिला स्वास्थ्य कर्मी आशा, क्षेत्रीय अस्पताल केलांग में तैनात डाटा एंट्री ऑपरेटर पूनम देवी और गीता देवी शामिल हैं। स्वास्थ्य विभाग और कर्मचारियों की केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख ने भी सराहना की है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा – ‘माना कि अंधेरा घना है, लेकिन दीया जलाना कहां मना है’। हिमाचल प्रदेश के लाहौल-स्पीति में अंधेरे में भी टीकाकरण करते इन स्वास्थ्य कर्मियों पर मुझे गर्व है।

जानकारी के अनुसार स्वास्थ्य कर्मचारी केलांग अस्पताल से सुबह 8:30 बजे वैक्सीन लगाने के लिए निकल जाते हैं और देर रात तक टीका लगाने का अभियान जारी रखते हैं। ये कर्मचारी लाहौल की मयाड़ घाटी के सबसे दुर्गम गांव खंजर में भी वैक्सीन लगाने के लिए पहुंचे, जहां माइनस 13 न्यूनतम तापमान चल रहा है। जहां सड़के नहीं हैं, वहां भी पैदल चलकर घर-घर पहुंचकर लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है। लाहौल-स्पीति जिले में मंगलवार रात तक 22 हजार 292 लोगों को कोरोना का टीका लगाया जा चुका है। संवाद

3 दिसंबर तक पूरा होगा वैक्सीन की दूसरी डोज का 100 फीसदी लक्ष्य
प्रदेश में 3 दिसंबर तक कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज का 100 फीसदी लक्ष्य पूरा करने के लिए स्वास्थ्य महकमा दिन-रात जुटा हुआ है। 4 दिसंबर को इस उपलक्ष्य में मंडी में एक समारोह भी आयोजित किया जाएगा। इस समारोह में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री शामिल होंगे। समारोह में करीब 20 लाभार्थियों को सम्मानित भी किया जाना है।

जो चल-फिर नहीं सकते, उन्हें घर जाकर लगा रहे वैक्सीन
लाहौल में बीमार और दूरदराज इलाकों के गांवों के बुजुर्ग लोग जो चल फिर नहीं सकते हैं, उन्हें स्वास्थ्य विभाग डोर टू डोर कोरोना वैक्सीनेशन का सेकेंड डोज लगा रहा है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम दिन-रात एक किए हुए है। लाहौल में शाम होते ही तापमान शून्य पहुंच जाता है। विभाग के इन कर्मियों की मेहनत का हर कोई तारीफ कर रहा है।

टीका लगाने के लिए टीम कर रही मेहनत : डॉ. रणजीत
जिला स्वास्थ्य अधिकारी लाहौल डॉ. रणजीत सिंह वेद ने बताया कि कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर लाहौल-स्पीति स्वास्थ्य विभाग की टीम मेहनत कर रही है। रात के अंधेरे में भी टॉर्च और मोबाइल फोन की रोशनी में अभियान को तेज किया है। इसके लिए सभी बधाई के पात्र हैं। उन्होंने कहा कि जिले में जो बीमार और बुजुर्ग लोग वैक्सीनेशन के लिए नहीं आ सकते हैं, उनके लिए डोर टू डोर कोरोना टीकाकरण की दूसरी डोज लगाई जा रही है।