कोरोना को दे चुकी मात, ब्लैक फंगस की संदिग्ध महिला मरीज PGI रेफर

ऊना. हिमाचल प्रदेश के ऊना जिला (Una) में एक 75 वर्षीय वृद्ध महिला में ब्लैक फंगस का संदिग्ध मामला सामने आया है. महिला में ब्लैक फंगस की शंका होने के बाद पीजीआई चंडीगढ़ (PGI Chandigarh) रेफर कर दिया गया है. जानकारी के अनुसार, उपमंडल हरोली के गांव कांगड़ की महिला करीब 2 माह कोरोना पॉजिटीव पाई गई थी और कुछ समय में ही बुजुर्ग महिला कोरोना को मात देते हुए ठीक हो गई थी, लेकिन कोविड नेगेटिव होने बाद महिला को मुंह मे स्वस्थ्य संबन्धी समस्या पेश आई.

इसके बाद परिजनों ने बुजुर्ग महिला के इलाज के लिए ईएनटी विशेषज्ञ संपर्क साधा और ईएनटी विशेषज्ञ ने दंत चिकित्सक को दिखाने को कहा. इसके बाद निजी दंत चिकित्सक ने वृद्धा के सिटी स्कैन और अन्य टैस्ट करवाये तो रिपोर्ट में महिला ब्लैक फंगस की संदिग्ध पाई गई है.

क्या बोले डॉक्टर
मामले की पुष्टि करते हुए सीएमओ डॉ. रमन शर्मा ने बताया कि फिलहाल यह ब्लैक फंगस का संदिग्ध मामला है. निजी लैब की रिपोर्ट में महिला को ब्लैक फंगस से पीड़ित बताया गया है, जिसके बाद महिला को पीजीआई चंडीगढ़ रैफर कर दिया गया है लेकिन अधिकृत लैब से पुष्टि होने के बाद ही इसकी पुष्टि की जा सकती है. हिमाचल प्रदेश में लगातार ब्लैक फंगस के मामले आ रहे थे. लेकिन अब काफी दिनों बाद यह मामला सामने आया है.