कोयला घोटाला: ईडी ने अभिषेक बनर्जी से नौ घंटे की पूछताछ, बोले- हम और मजबूती से लड़ेंगे

पश्चिम बंगाल में कथित कोयला घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप में पूछताछ के लिए टीएमसी महासचिव और ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी सोमवार को दिल्ली में प्रवर्तन निदेशालय के कार्यालय पहुंचे। मीडिया से बातचीत में अभिषेक ने कहा कि उन्हें ईडी ने पूछताछ के लिए नोटिस जारी किया था, उसी आधार पर वह ईडी के समक्ष पेश हुए। उन्होंने कहा कि वह केंद्रीय एजेंसी को जांच में पूरा सहयोग करेंगे।

बहरहाल, अब जानकारी आ रही है कि बनर्जी से ईडी ने करीब नौ घंटे की पूछताछ की। ईडी के सवालों का जवाब देकर दफ्तर से बाहर आए अभिषेक बनर्जी ने सीधे भाजपा पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि जो भी बीजेपी के खिलाफ लड़ता है उसे परेशान किया जाता है। यह मामला कोलकाता से सामने आया है, मुझे दिल्ली तलब किया गया है। मुझसे पिछले 8 घंटों से लगातार सवाल पूछे जा रहे हैं। पहले दिन से, मैं अपने खिलाफ सबूत, यदि कोई हो तो, सार्वजनिक करने के लिए कह रहा हूं।

बनर्जी ने कहा कि अगर बीजेपी को लगता है कि वह यह सब करके टीएमसी को डरा सकती है, अगर उन्हें लगता है कि टीएमसी भी कांग्रेस और अन्य पार्टियों की तरह हार मान लेगी, तो हम और मजबूती से लड़ेंगे। हम हर उस राज्य में जाएंगे, जहां उन्होंने (भाजपा) लोकतंत्र की हत्या की है।

उन्होंने कहा कि बीजेपी की तानाशाही परास्त होगी। बीजेपी को अपनी सारी ताकत, जोश, धमकी और संसाधन लगाने दो, मेरे शब्दों पर ध्यान दें, उनके संसाधन खत्म होने वाले हैं। टीएमसी अगले चुनावों में बीजेपी को हराएगी। उन्होंने कहा कि नौ घंटे मुझसे सवाल-जवाब किए गए। अगर मेरे खिलाफ सबूत हैं कि मैंने 10 पैसे का भी लेनदेन किया है तो मुझे फांसी पर चढ़ा दीजिए, मैं तैयार हूं। जो भाजपा के खिलाफ लड़ता है भाजपा उसे परेशान करती है।

उन्होंने कहा कि मेरे खिलाफ कोई सबूत हैं तो उसे लोगों के सामने लाएं। भाजपा को लगता है दूसरे दलों की तरह टीएमसी डर जाएगी, घर में बैठ जाएगी। आपको जो उखाड़ना है उखाड़ लीजिए। टीएमसी हर उस राज्य में जाएगी जहां भाजपा सत्ता में है। आपको जो करना है करें 2024 में तृणमूल कांग्रेस आपको हराएगी। हम इन निरंकुशों और कायरों के आगे नहीं झुकेंगे, जो हमें राजनीतिक रूप से नहीं हरा सकते। 25 भाजपा विधायक पार्टी से जुड़ने के लिए लाइन में हैं, लेकिन हम उन्हें नहीं ले रहे हैं।

उन्होंने कहा कि अगर कोई टीएमसी को जबरदस्ती रोकना चाहता है, तो मैं उन्हें चुनौती देता हूं। आप सीबीआई, ईडी, आयकर और किसी भी अन्य एजेंसी का उपयोग कर सकते हैं, लेकिन हम नहीं झुकेंगे। हमें कोई रोक नहीं सकता है।