कैलाश फेडरेशन के निदेशकों को हर बैठक के मिलेंगे एक हजार रुपये

कैलाश जिला कोऑपरेटिव मार्केटिंग और कंज्यूमर फेडरेशन के अध्यक्ष और निदेशकों को अब प्रति बैठक में भाग लेने के लिए एक हजार रुपये मिलेंगे। फेडरेशन की मांग पर सहकारिता विभाग ने प्रति बैठक के इस भत्ते में 700 रुपये की बढ़ोतरी कर दी है। करीब 11 साल बाद फेडरेशन में यह भत्ता बढ़ाया गया है।

जिला शिमला के भाजपा अध्यक्ष रवि मेहता को कैलाश फेडरेशन की कमान सौंपी गई है। निदेशक मंडल में सात अन्य सदस्य भी हैं। फेडरेशन के सचिव की ओर से सहकारिता विभाग को भत्तों में बढ़ोतरी का प्रस्ताव भेजा गया था। रजिस्ट्रार कोऑपरेटिव सोसायटी ने इस प्रस्ताव पर विस्तार से मंथन करने पर पाया कि फेडरेशन की आर्थिक स्थिति ठीक है।

ऐसे में भत्तों में बढ़ोतरी हो सकती है। रजिस्ट्रार कोऑपरेटिव सोसायटी की ओर से जारी अधिसूचना में बताया गया है कि अब प्रति बैठक एक हजार रुपये दिए जाएंगे। पहले प्रति बैठक 300 रुपये दिए जाते थे। इसके अलावा अध्यक्ष को 800 रुपये और निदेशक मंडल को 500 रुपये प्रति दिन के हिसाब से महंगाई भत्ता दिया जाएगा।
पहले सभी को प्रति दिन 200 रुपये महंगाई भत्ता दिया जाता था। बैठक में शामिल होने के लिए अपनी गाड़ी से आने पर अब पांच रुपये प्रति किलोमीटर की जगह आठ रुपये प्रति किलोमीटर की दर से भुगतान किया जाएगा। आरसीएस ने फेडरेशन के अध्यक्ष का आवास भत्ता भी प्रति माह दस हजार रुपये तय कर दिया है।