कुल्लू: मणिकर्ण घाटी में लगातार बारिश, नाले में मां बेटी बह

कुल्लू:  हिमाचल प्रदेश में मॉनसून (Monsoon) की सक्रियता के चलते दो दिन के लिए रेड अलर्ट है. ऐसे में मंगलवार रात से हो रही बारिश के बाद तबाही की तस्वीरें सामने आने लगी हैं. कुल्लू में बारिश ने जमकर कहर बरपाया है. यहां पर मणिकर्ण घाटी में लगातार बारिश से ब्रह्मगंगा नाले में बाढ़ आ गई है और मां बेटी बह गए हैं. दोनों की तलाश की जा रही है. फिलहाल, हिमाचल में बारिश से दो अगस्त तक राहत मिलने के आसार नहीं हैं. लगातार बारिश से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है.

जानकारी के अनुसार, कुल्लू जिले में पूनम (25) और उनका चार साल का बेटा निकुंज पार्वती नदी को जोड़ने वाले ब्रह्म गंगा नाले में बहे हैं. सुबह छह बजे के आसपास की यह घटना है. दोनों नाले को पार कर रहे थे. इस दौरान पानी का बहाव बढ़ गया और दोनों बह गए. फिलहाल, सुबह नौ बजे तक दोनो का कुछ पता नहीं चल पाया था. बता दें कि कुल्लू ज़िला में बीती रात से लगातार मूसलाधार बारिश हो रही है. कुल्लू जिला मुख्यालय के साथ लगते लोरन वार्ड -7 में नाले आने से 3 गाड़ियों को नुकसान हुा है. लोरन-सरली खलाड़ा सड़क भी प्र‌भावित हुई है.

मणिकर्ण घाटी के ब्रह्म गंगा नाले में बाढ़ से कई मकान और कैंपिंग साइट को नुक्सान हुआ है पुलिस की टीम और स्थानीय लोग मौके पर हैं और रेस्कयू चल रहा है. घाटी मे कई सड़कें फिलहाल बंद हैं. प्रशासन ने लोगों को अलर्ट किया है और नदी-नालों और भूस्खलन जोन में ना जाने की अपील की है. किसी भी तरह की जानकारी आपदा प्रंबंधन के नंबर 1077 और 1070 पर ली जा सकती है.