कुल्लु: सैंज अस्पताल में डॉक्टरों की कमी, संघर्ष समिति उतरेगी धरने पर

सैंज(कुल्लु): सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सैंज में चिकित्सकों और पैरामेडिकल स्टॉफ की कमी को लेकर पिछले एक वर्ष से उठ रही मांग अब आंदोलन का रूप ले रही है। घाटी के लोगों द्वारा सैंज संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले उठाई जा रही मांग अब अपने चरम पर पहुंच गई है ।

गत 21 दिसंबर को संयुक्त संघर्ष समिति ने नायब तहसीलदार सैंज के माध्यम से प्रदेश सरकार को सैंज अस्पताल में डॉक्टरों के पद भरने को लेकर ज्ञापन सौंपा था जिसमें स्थानीय विधायक द्वारा पिछले एक वर्ष से वादा पूरा न करने पर चिंता जताई है और मांग को पूरा करने लिए दो सप्ताह का समय दिया था ।

समिति ने निर्धारित समय में मांग पूरा न होने पर आठ जनवरी से आंदोलन का अल्टीमेटम भी दे दिया था । गौर हो कि सैंज अस्पताल में पद भरने की मांग को लेकर अतीत में भी घाटी के लोगों ने अनेकों बार रैली और मीडिया के माध्यम से लोगों की आवाज सरकार तक पहुंचाने के प्रयास किया जिसमें पिछले वर्ष दस दिनों तक क्रमिक अनशन भी चला था और इस अनशन को तोड़ते हुए विधायक ने डॉक्टरों की नियुक्ति का आश्वासन दिया था । ऐसे में एक वर्ष बीत जाने पर शुक्रवार को संयुक्त संघर्ष समिति ने अल्टीमेटम का समय बीतता देख आंदोलन की तैयारियां शुरू कर दी है ।

समिति ने प्रधान महेश शर्मा की अध्यक्षता में शुक्रवार को बैठक में आठ तारीख से शुरू होने वाले आंदोलन की रूपरेखा तैयार की । बैठक में आंदोलन में स्थानीय लोगों की हाज़िरी सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न जनप्रतिनिधियों व आम लोगों को प्रभारी नियुक्त किया गया । इस दौरान टैक्सी यूनियन सैंज के लिए दिलीप बिष्ट, मेहर सिंह, तापे राम तथा गोपाल को नियुक्त किया गया । व्यापार मंडल के लिए व्यापारी विकास समिति के प्रधान सुरेश कुमार, पूर्व वीडीसी उपाध्यक्ष गोविंद सिंह ठाकुर, चमन शर्मा, लाल दास तथा मोती राम पालसरा को जिम्मेदारी दी गई है ।

इसी तरह नेपाली एकता समाज के लिए पप्पू मियां, राधिका, पिंकी तथा सौवर जबकि गोही पंचायत के लिए रोहित, जीवन तथा सेवती शांघड़ पंचायत के लिए तेजा सिंह व महेंद्र राणा, रैला पंचायत के लिए पंचायत उप प्रधान बालमुकुंद, टेक सिंह, पवन कुमार, जुगतराम, सुख दयाल, रेवती व करण सिंह धाऊगी पंचायत के लिए मोतीराम, जीतराम, जसवंत काशु व सोहनलाल तथा दुशाहड़ पंचायत के लिए पंचायत प्रधान प्रकाश ठाकुर, संजू बिष्ट, राजेश कुमार, उत्तम बिष्ट, सेस राम, डोला सिंह व रविंदर को जिम्मेदारी सौंपी गई है । देहुरी पंचायत के लिए कमल, श्याम व चमन राणा कनौण के लिए प्रीतम, कश्मीर सिंह, एलके धामी तथा यशु कारदार जबकि लारजी पंचायत के लिए डोला सिंह महंत व हेमराज शर्मा शैंशर पंचायत के लिए राजकुमार, नेसराम व नरेश कुमार गाड़ापारली पंचायत के लिए तीर्थ राम तथा जगदीश सुचैहण पंचायत के लिए प्रधान रेवती राम, पप्पू, प्रेम सिंह व हुकम सिंह तलाड़ा पंचायत के लिए पन्ना लाल व ओम प्रकाश शर्मा भलाण के लिए दिलेर सिंह देहुरीधार पंचायत के लिए पंचायत प्रधान निर्मला देवी, पूर्व बीडीसी सदस्य प्रेम सोनी तथा लाल दास सैंज कॉलेज व आईटीआई सैंज के लिए गवीश व आकाश को नियुक्त किया गया है ।

सैंज संयुक्त संघर्षसमिति के प्रधान महेश शर्मा ने कहा कि मौजूदा सरकार सैंजघाटी के लोगों की अनदेखी ही नहीं बल्कि झूठ बोलकर ठगा भी जा रहा है । समिति के महासचिव शेर नेगी, कोषाध्यक्ष गोविंद सिंह ठाकुर तथा नारायण चौहान सहित तमाम पदाधिकारियों ने कहा कि अब सैंज की आम जनता की अनदेखी सहन नहीं हो सकती और इसको लेकर आठ जनवरी को सरकार की वादाखिलाफ़ी के विरुद्ध विशाल आंदोलन किया जाएगा ।