कलाकारों ने अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर बताईं महिला कल्याण की योजनाएं

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर आज सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग से सम्बद्ध पूजा कलामंच बाड़ीधार के कलाकारों ने कुनिहार विकास खण्ड की ग्राम पंचायत ग्याणा तथा दानोघाट में महिलाओं के कल्याण के लिए कार्यान्वित की जा रही विभिन्न योजनाओं की जानकारी प्रदान की। कलाकारों ने गीत-संगीत तथा नुक्कड़ नाटकों के माध्यम प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं के उत्थान के लिए कार्यान्वित की जा रही विभिन्न योजनाओं के बारे में जागरूक किया।

लोगों को अवगत करवाया गया कि प्रदेश सरकार द्वारा सामाजिक गतिविधियों एवं विकास में महिलाओं की सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित करने तथा उन्हें सशक्त बनाने के लिए विभिन्न योजनाएं आरम्भ की गई हैं। सरकार द्वारा महिला सशक्तिकरण तथा पर्यावरण संरक्षण के लिए राज्य में हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना के माध्यम से 2.85 लाख महिलाओं को निःशुल्क गैस कुनैक्शन उपलब्ध करवाए गए हैं। सरकार के इस प्रयास के फलस्वरूप दिसम्बर, 2019 में हिमाचल प्रदेश चूल्हा धुंआ मुक्त राज्य घोषित किया गया है। योजना के तहत पात्र परिवारों को निःशुल्क गैस कुनैक्शन उपलब्ध करवाया जा रहा है।  कलाकारों ने लोगों को अवगत करवाया कि प्रदेश में बालिकाओं व किशोरियों के सशक्तिकरण तथा उनके खिलाफ हो रहे अपराधों पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से सक्षम गुड़िया बोर्ड गठित किया गया है।
लोगों को मदर टेरेसा असहाय मातृ सम्बल योजना, मुख्यमंत्री कन्यादान योजना, बेटी है अनमोल योजना, पोषण अभियान की विस्तृत जानकारी प्रदान की गई।

इस अवसर पर बीडीसी अध्यक्ष सोमा कौण्डल, ग्राम पंचायत ग्याणा के प्रधान कर्म चन्द, महिला मण्डल प्रधान यशु ठाकुर, महिला मंडल की पूर्व प्रधान द्रोपदी वर्मा, ग्राम पंचायत दानोघाट की प्रधान मंजू ठाकुर, उप प्रधान टेकचंद, वार्ड सदस्य नीमचन्द, श्याम, महिला मण्डल प्रधान धनबंती सहित बड़ी संख्या में स्थानीय निवासी उपस्थित थे।