ऊना : बाथड़ी में पटाखा फैक्टरी सील, एक गिरफ्तार

0
3

बाथू-बाथड़ी औद्योगिक क्षेत्र में अवैध रूप से चल रही पटाखा फैक्टरी में हुए विस्फोट मामले में पुलिस ने पहली गिरफ्तारी कर ली है। इसके साथ ही पुलिस ने बाथड़ी औद्योगिक क्षेत्र में चल रहे एक और पटाखा उद्योग को सील कर दिया है। इसके साथ ही अब बाथू बाथड़ी में दो पटाखा उद्योगों को सील किया जा चुका है। पुलिस ने बुधवार को गढ़शंकर के नैनवां गांव के निवासी दीपक राणा (41) को गिरफ्तार किया है। उक्त व्यक्ति बाथू व बाथड़ी दोनों स्थानों पर चल रहे दोनों पटाखा उद्योगों की बिलिंग का कार्य देख रहा था। पुलिस ने बीते रोज ही उसे पूछताछ के लिए डिटेन किया था। वहीं उससे पूछताछ के उपरांत हिरासत में ले लिया है। पटाखा उद्योग के संचालक व अन्य प्रबंधक अभी तक गिरफ्त से बाहर है।

संचालकों की धरपकड़ के लिए पुलिस पंजाब, हरियाणा व यूपी में दबिश दे रही हैं। इससे पहले एसडीएम हरोली ने बाथड़ी में प्लॉट नंबर 222 पर चल रहे एक पटाखा उद्योग के गेट पर नोटिस चस्पा कर उद्योग प्रबंधन को शाम चार बजे तक उद्योग के संचालन संबंधी वैद्य दस्तावेजों साथ प्रस्तुत होने का नोटिस दिया था, लेकिन सांय चार बजे तक भी उद्योग प्रबंधन के दस्तावेजों के साथ उपस्थित न होने पर प्रशासन के आदेश पर पुलिस ने उक्त उद्योग को आगामी आदेशों तक सील कर दिया है। वहीं, बाथू के अवैध पटाखा उद्योग परिसर को भी केस प्रॉपटी बनाते हुए पूरी तरह सील कर दिया है।

बाथू पटाखा फैक्टरी में विस्फोट के बाद बिजली बोर्ड एक्शन में आया है। बाथड़ी में चल रहे दूसरे पटाखा उद्योग में दिए अस्थायी बिजली कनेक्शन को काट दिया है। गौरतलब है कि उक्त उद्योग में किसी निखिल नामक व्यक्ति के नाम से अस्थायी बिजली का कनेक्शन जुलाई 2020 से लगा हुआ था। विभाग के एक्सईएन ई. अशोक परमार ने इसकी पुष्टि की है।