उपचुनाव में हार को प्रतिष्ठा का सवाल न बनाएं सीएम जयराम, मिलकर करें काम: विक्रमादित्य

हिमाचल प्रदेश के मंडी की सांसद प्रतिभा सिंह का मंडी शहर में एक स्थायी कार्यालय होगा। ऐसे में लोगों को अपनी समस्याओं को लेकर रामपुर नहीं जाना पड़ेगा। इसकी पुष्टि उनके बेटे विधायक विक्रमादित्य सिंह ने की है। उन्होंने कहा कि चुनाव से पहले मंडी जिले के लोगों को यह चिंता सता रही थी कि यदि प्रतिभा सिंह जीत जाएंगी तो उनके घर रामपुर में हैं, ऐसे में उनसे मिलने के लिए रामपुर जाना पड़ेगा जोकि हर किसी के बजट में नहीं होगा। लोगों की इसी समस्या का हल करते हुए हमने मंडी शहर में प्रतिभा सिंह का कार्यालय बनाने का निर्णय लिया है।

मंडी में पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि जनता ने प्रतिभा सिंह को ऐतिहासिक जीत दिलाई है। कहा कि इस बार यह उपचुनाव जीतने से कांग्रेस को संजीवनी मिली है। उन्होंने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह से निवेदन किया है कि वह अब इस उपचुनाव को प्रतिष्ठा का सवाल न बनाएं। हम सब मिलकर काम करेंगे। हमको मिलकर लोकतंत्र को मजबूत करना है। उन्होंने कहा कि हमने चुनाव के दौरान हर क्षेत्र का दौरा किया और हर वर्ग के लोगों की समस्याओं को सुना। कहा कि इन समस्याओं को  नव निर्वाचित सांसद प्रतिभा सिंह केंद्र सरकार के ध्यान में लाएंगी। कहा कि बेरोजगारी, युवाओं, महिलाओं और कर्मचारियों की समस्याओं से सरकार को अवगत करवाया जाएगा।

मंडी भाजपा की नहीं, मंडी की जनता की है
इस मौके पर उन्होंने कहा कि जनता ने यह साबित कर दिया है कि मंडी और मंडी संसदीय क्षेत्र के लोगों की है। इस पर सभी का एक समान अधिकार है। कहा कि जनता ने अपने जनादेश से यह बता दिया कि मंडी किसकी है। कहा कि प्रतिभा सिंह सात हजार से अधिक वोट से जीती हैं। हालांकि इससे पहले के चुनाव में हमें लाखों वोट से हारे थे। हमने इस बार लोगों का दिल जीता है। जीत का यह अभियान इसी तरह से चलता रहे, इसके लिए कांग्रेस के प्रत्येक कार्यकर्ता ने कमर कस ली है। हमें संगठन को और मजबूत करना होगा। इसके लिए हम सभी क्षेत्रों में अपनी कमियां दूर करेंगे। पूर्व मंत्री रंगीला राम राव, कौल सिंह ठाकुर, सोहन लाल आदि नेता कार्यकताओं का मार्ग दर्शन करेंगे। विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि आगामी विस चुनाव में हम जिला मंडी की 10 की 10 सीटें जीतेंगे। इसके लिए  कार्यकर्ता काम में जुट गए हैं। वहीं, सासंद प्रतिभा सिंह मंडी की आवाज को प्रधानमंत्री मोदी के समक्ष रखेंगी।

नोटा पर जताई चिंता
उन्होंने इस बार बढ़े नोटा पर चिंता जताई और कहा कि यह बहुत ही चिंतनीय है। हमें लोगों के विश्वास को जगाना होगा कि उनको आखिर क्यों अपने नेताओं पर भरोसा नहीं रहा। नोटा के क्या कारण रहे इसका भी पता लगाया जाएगा।