उत्तराखंडः बादल फटा, गांवों में भारी तबाही

चमोली के थराली क्षेत्र के पिंडरघाटी स्थित गुड़म गांव के जंगल में शनिवार तड़के बादल फटने से गुड़म, थाला, लोल्टी गांवों में भारी तबाही हुई। गदेरों (नाले) के उफान पर आने से गांव में मलबा भर गया। इस दौरान दो महिलाएं मलबे की चपेट में आ गई। आनन-फानन में परिजनों ने दोनों महिलाओं को खींचकर मलबे से बाहर निकाला।

वहीं गुड़म स्टेट में दो मकान और दो गौशालाएं पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई हैं। गौशाला दबने से 10 मवेशी भी घायल हुए हैं। घटना की सूचना मिलते ही तहसील प्रशासन और पुलिस की टीम ने मौके पर जाकर लोगों को राहत पहुंचाई। शनिवार सुबह करीब तीन बजे बादल फटने से पिंडरघाटी के कई गुड़म, थाला, लोल्टी गांवों में मलबा घुस गया, जिसने घरों में भारी तबाही मचाई। पिंडरघाटी में शुक्रवार रात से ही हो रही भारी बारिश से अनहोनी के चलते ग्रामीण पहले ही अपने घरों से बाहर निकल गए थे।

गुड़म गांव के प्रभावित वीरेंद्र  सिंह ने बताया कि गुड़म गांव के ऊपरी भाग के जंगल में तेज गर्जना के साथ बादल फटा। भयंकर उफान के साथ गदेरे से गांव में मलबा आ गया। अंधेरे में मलबा आते ही पहले से अपने घरों से बाहर रह रहे ग्रामीण जान बचाने के लिए भागने लगे। तभी देबुली देवी और लीला देवी मलबे की चपेट में आ गई। आनन-फानन में किसी तरह दोनों महिलाओं को उनके परिजनों ने खींचकर मलबे से बाहर निकाला और सुरक्षित स्थान पर ले गए। गांव में दो गौशालाएं क्षतिग्रस्त हो गईं। साथ ही उनमें बंधे मवेशी मलबे में दब गए। किसी तरह मलबा हटाकर ग्रामीणों द्वारा अपने पशुओं को जिंदा बाहर निकाला गया।

गोविंदघाट में बादल फटने से भारी तबाही

हेमकुंड साहिब के प्रवेश द्वार गोविंदघाट में शनिवार सुबह पांच बजे बरसाती नाले में बादल फटने से भारी तबाही मची। यहां लगभग 30 मीटर तक बदरीनाथ हाईवे बह गया है, जबकि 40 वाहन मलबे में दफन हो गए हैं। साथ ही दुकानों को भी भारी नुकसान पहुंचा है। इस दौरान डेक्कन कंपनी का हेलीपेड और हेलीकॉप्टर बरसाती नाले की चपेट में आने से बाल-बाल बच गया।

घटना की सूचना मिलते ही जिलाधिकारी व जिले के अन्य आला अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर आपदा से हुए नुकसान का जायजा लिया। गनीमत यह रही कि इस दौरान कोई जनहानि नहीं हुई है। शुक्रवार मध्य रात्रि से ही गोविंदघाट क्षेत्र में भारी बारिश शुरू हो गई थी और शनिवार सुबह पांच बजे बदरीनाथ हाईवे के बीचों बीच बह रहे बरसाती गदेरे में बादल फट गया।