इतिहास संकलन समिति की बैठक 3 अक्टूबर को सोलन के कोटला नाला में होगी

इतिहास संकलन समिति के प्रदेश युवा संयोजक एवम जिला अध्यक्ष डा. मनोज शर्मा के दिशा निर्देशो के अनुसार बडे हर्ष के साथ सूचित किया जाता है कि इतिहास संकलन समिति सिरमौर अपने कार्य विस्तार के लिए लगातार क्रियाशील है। 75वे स्वतंत्रता महोत्सव के उपलक्ष मे संविधान की संसदीय प्रणाली के अनुसार राष्ट्रीय इतिहास संकलन समिति के तहत हिमाचल प्रदेश को चार जोन मे विभाजित किया गया है। समिति की जिला सिरमौर इकाई को सोलन और शिमला के साथ जोडा गया है। सिरमौर, सोलन और शिमला के कार्यक्रम आयोजन का मुख्य स्थान सोलन निर्धारित किया गया है। आगामी 3 अक्तुबर 2021 को इतिहास संकलन समिति सिरमौर, सोलन और शिमला की एक विशेष बैठक का आयोजन सोलन के कोटलानाला क्षेत्र मे किया जा रहा है। जिसमे राज्य और राष्ट्रीय स्तर के पदाधिकारी उपस्थित रहेगे।

कार्यक्र्म मे शोध पत्र पढे जाएगे। अहम यह है कि चयनित शोध पत्र त्रुटियो के संशोधन के बाद इंडियन कॉन्सेयल ऑफ हिस्टोरिकल रिर्सच (ichr) को प्रकाशन हेतु भेजे जाएगे। शोध वाचन के लिए समिति सदस्य एवम पदाधिकारी जिला मे स्वतंत्र तौर पर इतिहास संग्रह्कर्ताओ से शोध एकत्र कर सकते है। इसके अलावा समिति कार्यकारिणी विस्तार के लिए इतिहास संग्रह्कर्ताओ द्वारा माननीय जिला अध्यक्ष डा. मनोज शर्मा को आवेदन किया जा सकता है।

कार्यक्रम आयोजन हेतु समिति के सभी सदस्यो से निर्धारित अथवा स्वैच्छिक योगदान शुल्क आबंटन तय किया जा रहा है। जिसके लिए जिला समिति के अंतर्गत सुझाव आमंत्रित किए जा रहे है। इतिहास संकलन समिति सिरमौर जिला महासचिव कवर सिह नेगी ने बताया इतिहास संकलन समिति की जिला सिरमौर इकाई की एक वैब बैठक का आयोजन शीघ्र होना प्रस्तावित है। जिसमे समिति के तमाम पदाधिकारियो और सदस्यो की उपस्थिति अनिवार्य होना तय की गई है।