अमिताभ बच्चन को दादा साहेब फाल्के पुरस्कार

0
3

हिन्दी सिनेमा के महानायक अमिताभ बच्चन को रविवार को हिन्दी सिनेमा के सबसे बड़े सम्मान दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया. राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक भव्य समारोह में अमिताभ बच्चन को यह पुरस्कार दिया गया. इस मौके पर उनकी पत्नी और अभिनेत्री जया बच्चन और उनके पुत्र अभिषेक बच्चन भी उपस्थित रहे.

शहंशाह एक किरदार अनेक…क्रिटिक हो या फैन…हर कोई उनका लोहा मानने पर विवश है. सदी के महानायक की गाथा और सिनेमाई यात्रा भी अद्वितीय रही है. हिन्दी सिनेमा के सबसे बड़े सुपरस्टार और बिग बी के नाम से मशहूर फिल्म अभिनेता और महान कलाकार अमिताभ बच्चन को दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया. यह सम्मान अमिताभ को उनके अविस्मरणीय और अतुलनीय योगदान के लिए दिया गया. यह पुरस्कार अमिताभ बच्चन को राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक भव्य समारोह में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दिया. अमिताभ के अवॉर्ड लेते ही सारा ऑडिटोरियम तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा.

गौरतलब है कि दादा साहेब फाल्के पुरस्कार भारत सरकार की ओर से दिया जाने वाला भारतीय सिनेमा का सर्वोच्च सम्मान है. अमिताभ बच्चन ने इस सम्मान से नवाज़े जाने पर भारत सरकार को धन्यवाद भी दिया. अवॉर्ड लेने के बाद अमिताभ ने मज़ाकिया लहजे में एक सवाल किया कि यह पुरस्कार मिलना इस बात का संकेत तो नहीं कि मैं अब घर बैठकर आराम करूं?

अमिताभ बच्चन को देश का दूसरा सबसे बड़ा नागरिक सम्मान पद्म विभूषण भी मिल चुका है. उम्र के इस पड़ाव पर भी न सिर्फ उनके अभिनय का, बल्कि लोकप्रियता का दायरा बढ़ता ही जा रहा है. साल दर साल उन्होंने अपनी उम्र और फिल्मों के बदलते दौर और वक्त के साथ अपने किरदारों के चयन करने की प्रक्रिया में भी बदलाव किया. उम्र के इस पड़ाव पर भी उनके लिए खासतौर पर किरदार लिखे जाते हैं.