दिल्ली में सर्दियों की शुरुआत के साथ ही वायु प्रदूषण में काफी बढ़ोतरी

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में सर्दियों की शुरुआत के साथ ही वायु प्रदूषण (Air Pollution) में काफी बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. इसकी वजह दिल्ली से सटे राज्यों पंजाब और हरियाणा में पराली जलाए (Stubble Burning) जाने की घटनाओं को बताया जा रहा है. दिल्ली के प्रदूषण में पराली जलाने की हिस्सेदारी रविवार को बढ़कर 40 प्रतिशत हो गई है. यह इस मौसम में सबसे ज्यादा स्तर है. पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की वायु गुणवत्ता और मौसम पूर्वानुमान तथा अनुसंधान प्रणाली (सफर) ने बताया कि यह इस सीजन का सर्वाधिक स्तर है जब राजधानी में वायु गुणवत्ता का स्तर और गिर गया है. प्रदूषण का स्तर बहुत खराब श्रेणी में चल रहा है.
सफर ने कहा कि हरियाणा और पंजाब (उत्तर-पश्चिमी भारत) में पराली जलाने के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. शनिवार तक पराली जलाने के 3,216 केस दर्ज किए गए. सफर का कहना है कि निचले स्तर पर हवा की गति, धूल उड़ना और कम आर्द्रता जैसे कुछ अन्य कारण भी हैं, जिनके कारण प्रदूषण के लिहाज से हालात प्रतिकूल हैं. हालांकि, सफर के अनुसार एक सकारात्मक संकेत यह है कि हवा की दिशा पश्चिम की ओर होने को है.
दिल्ली के ‘पीएम 2.5’ प्रदूषण में पराली जलाने से होने वाले प्रदूषण की हिस्सेदारी रविवार को बढ़कर 40 प्रतिशत हो गई. यह इस मौसम में सबसे ज्यादा है. यह शनिवार को 32 प्रतिशत, शुक्रवार को 19 फीसदी और गुरुवार को 36 प्रतिशत थी.