अमरीका: कोरोना महामारी के बीच राष्ट्रपति चुनाव प्रक्रिया, अब तक 700 से ज्यादा लोगों की मौत

अमरीका में कोरोना महामारी के बीच राष्ट्रपति चुनाव की प्रक्रिया जारी है। एक शोध के मुताबिक ट्रंप की रैलियों की वजह से अब तक 700 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। डोनाल्ड ट्रंप ने अब तक 18 चुनावी रैलियां कीं, जिसकी वजह से 30 हजार से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमित हुए। यह शोध स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने किया है। शोध में यह बात सामने आई कि रैलियां की कीमत जनता को या तो बीमार पड़कर या फिर अपनी जान देकर चुकानी पड़ी। प्रकाशित शोध 20 जून से 22 सितंबर तक ट्रंप की रैलियों पर आधारित है। शोध के मुताबिक ट्रंप की रैली में बड़ी गड़बडि़यां हुईं थी। कोरोना महामारी के बाद भी डोनाल्ड ट्रंप की रैलियों में हजारों की संख्या में लोग जुटे।
इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ीं, साथ ही बहुत से लोग ऐसे थे, जिन्होंने मास्क तक नहीं लगाया था। राष्ट्रपति ट्रंप खुद भी कोरोना वायरस से संक्रमित होने के पहले मास्क का प्रयोग बहुत ही कम करते थे। इसके अलावा प्रशासन की ओर से जारी कोरोना संबंधित प्रोटोकॉल का भी ट्रंप की रैलियां में जमकर उल्लंघन हुआ। शोधकर्ताओं ने कहा है कि हमारा विश्लेषण बड़े समारोहों में कोविड-19 के फैलने के जोखिम के संबंध में सार्वजनिक स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा दी गई चेतावनी का समर्थन करता है। खासकर जब मास्क का प्रयोग और शारीरिक दूरी का पालन नहीं किया गया। जिन लोगों ने ट्रंप की रैली में भाग लिया, उन्हें इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ी है। वहीं, डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडेन ने इस अध्ययन को ट्विटर पर पोस्ट किया और कहा कि राष्ट्रपति आपकी चिंता नहीं करते हैं। वह खुद के समर्थकों की भी चिंता नहीं करते हैं। अमरीका में वायरस की चपेट में आकर 94 लाख लोग संक्रमित हुए हैं। वहीं, 2.36 लाख से अधिक मरीजों की मौत हुई है।