US Presidential Elections 2020: बाइडन जीत के बेहद करीब

अमेरिका में मतदान के दो दिन बाद भी राष्ट्रपति पद की तस्वीर साफ नहीं हो सकी है। मतगणना के बीच डेमोक्रेट उम्मीदवार जो बाइडन ने 264 निर्वाचक मंडल मतों के साथ निर्णायक बढ़त बना ली है। वहीं, मौजूदा राष्ट्रपति और रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप 214 मतों के साथ व्हाइट हाउस की दौड़ में पिछड़ते दिख रहे हैं। ट्रंप कानूनी लड़ाई के फैसले पर आगे बढ़ गए हैं। दूसरी ओर, उनके समर्थक धांधली का आरोप लगाते हुए कई राज्यों में मतगणना केंद्रों के बाहर जुट गए हैं। समर्थकों ने कई जगह हंगामा और प्रदर्शन किया। वहीं डोनाल्ड ट्रंप उत्तरी कैरोलिना में आगे चल रहे हैं जबकि नेवादा और एरिजोना में बाइडन बढ़त बनाए हुए हैं। वहीं, जॉर्जिया में दोबारा मतगणना से बाइडन का इंतजार और लंबा हो गया है।
120 साल का रिकॉर्ड मतदान 
अमेरिकी राष्ट्रपति के लिए 3 नवंबर को हुए मतदान में इस बार 120 साल का रिकॉर्ड टूटा। यहां इस बार सबसे अधिक 16 करोड़ लोगों ने मताधिकारों का इस्तेमाल किया। चुनाव पर नजर रखने वाली साइट ‘यूएस इलेक्शन प्रोजेक्ट’ के प्रारंभिक अनुमान के मुताबिक इस वर्ष 23 करोड़ 90 लाख लोग मतदान करने के योग्य थे। उनमें से करीब 16 करोड़ लोगों ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। तीन नवंबर के चुनाव में रिकॉर्ड 66.9 फीसदी मतदान हुआ, जो वर्ष 1900 के बाद का सर्वाधिक मतदान है। वर्ष 1900 के चुनाव में 73.7 फीसदी मतदान हुआ था।
ट्रंप के चुनाव अभियान को अब भी भरोसा
ट्रंप के चुनाव अभियान के अधिकारी मैट मॉर्गन ने कहा, ‘ यह चुनाव अभी समाप्त नहीं हुआ है। जो बाइडेन चार राज्यों के नतीजों के आधार पर खुद को विजेता के तौर पर पेश कर रहे हैं लेकिन अंतिम नतीजे अभी दूर हैं। जॉजिया दोबारा मतगणना की ओर बढ़ रहा है जिसके बारे में हमें पूरा भरोसा है कि राष्ट्रपति ट्रंप बढ़त बनाएंगे।’
राष्ट्रपति ट्रंप ने किया ये दावा
अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने दावा किया है कि अगर केवल ‘वैध मतों’ की ही गिनती होती तो वह कांटे की टक्कर वाले राष्ट्रपति चुनाव में आसानी से जीत गए होते। व्हाइट हाउस में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए ट्रंप ने संकेत दिया कि अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों का फैसला अंतत: उच्चतम न्यायालय में होगा क्योंकि उन्होंने चुनाव में कथित धांधली के खिलाफ बड़े पैमाने पर वाद दाखिल करने की योजना बनाई है।