मंडी में आग लगने से दो भाइयों का मकान पूरी तरह जलाकर राख

मंडी जिले के करसोग की ग्राम पंचायत शेंदल के टंडयूरी गांव में गुरुवार प्रातः शॉर्ट सर्किट से भड़की आग ने दो भाइयों का मकान पूरी तरह जलाकर राख के ढेर में बदल दिया। इस भयंकर अग्निकांड में लगभग 90000 की नकद राशि, घर का सारा राशन, बर्तन, कपड़े, बिस्तर और एक तिनका तक नहीं बचाया जा सका। करीब 20 हजार के अधजले करंसी नोट आग बुझाने के बाद मिले हैं। परिवार बेहद निर्धन बताया जा रहा है। अभी हाल ही में दोनों भाइयों ने 90000 का अनारदाना बेचा था और इन्होंने इसी में पूरे साल का गुजारा करना था।
भयंकर अग्निकांड में दोनों भाइयों के भविष्य वाले सपनों पर भी पानी फेर कर रख दिया। जिला परिषद सदस्य निर्मला चौहान, पूर्व विधायक मस्तराम, पंचायत प्रधान बुद्धि सिंह ने इस घटना पर जहां गहरा दुख प्रकट कर किया है, वहीं पीडि़त परिवार की ज्यादा से ज्यादा सहायता करने की मांग भी रखी है। ग्रामीण लोगों ने अग्निकांड पर कहा कि पहले से ही निर्धन परिवार बहुत मेहनत करते हुए अपने परिवार स्थापित करने की कोशिश में लगा हुआ था, परंतु कुदरत ने आगजनी का ऐसा कहर ढहाया है कि अब इन दोनों भाइयों के पास न छत का आसरा बचा है, न कोई सामान।
दूसरी तरफ अब परिवारों को खुले आसमान तले सर्द रातें काटनी पड़ेंगी। हालांकि पंचायत प्रधान बुद्धि सिंह के अनुसार ग्रामीण लोग इस पीडि़त परिवार की सहायता करने को आगे आए हैं तथा आगामी दिनों में ग्रामीण जो सहायता हो सकती है, करेंगे, परंतु सरकार ज्यादा से ज्यादा इस परिवार की सहायता करे। जिला परिषद सदस्य निर्मला चौहान तथा पूर्व विधायक मस्तराम ने कहा कि इस बारे में बहुत जल्द जिला प्रशासन व मुख्यमंत्री से आग्रह किया जाएगा कि दोनों भाइयों की माली हालत पर गौर करते हुए ज्यादा से ज्यादा सहायता की जाए। तहसीलदार करसोग राजेंद्र ठाकुर ने कहा कि पटवारी टेकचंद और कानूनगो मेहर सिंह को मौके पर भेजकर रिपोर्ट मांग ली गई है तथा दोनों भाइयों को तुरंत राहत के रूप में दस-दस हजार रुपए की राशि प्रदान करते हुए तिरपाल भी दी जा रही है। अग्निकांड में करीब दस लाख का नुकसान बताया जा रहा है।