आज की पीढ़ी बेहतर-शांतिपूर्ण दुनिया बनाने में पूरी सक्षम: धर्मगुरु दलाईलामा

बौद्ध धर्मगुरु दलाईलामा ने कहा कि पिछली शताब्दी ने पर्याप्त हिंसा और रक्तपात देखा है, अब शांति इस सदी का नया मानदंड है। इस पीढ़ी के बच्चे प्रमुख रक्षक हैं, जो एक बेहतर और शांतिपूर्ण दुनिया बनाने में सक्षम हैं। दलाईलामा ने यह विचार अंतरराष्ट्रीय फेयर शेयर फार चिल्ड्रन समिट में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हिस्सा लेते हुए व्यक्त किए। धर्मगुरु ने अमीर और गरीब के बीच सामाजिक विषमता पर चिंता व्यक्त की।

मेरी बच्चों से अपील है कि इस सामाजिक विषमता को कम करने पर ध्यान केंद्रित करें, चाहे कोई समाजवादी हो या न हो। समिट में स्वीडन के प्रधान मंत्री स्टीफन लोफवेन, डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक डा. टेड्रोस एडनॉम सहित दुनिया भर से कई नोबेल शांति पुरस्कार विजेता शामिल थे।