LAC पर स्थिति बहुत ही नाजुक और गंभीर है, हम सभी चुनौतियों से निपटने के लिए तैयार हैं : सेनाध्यक्ष

भारत और चीन के बीच सीमा पर जारी तनाव के बीच सेनाध्यक्ष जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने लेह का दौरा किया। उन्होंने कहा कि वास्तविक नियंत्रण रेखा पर तनाव बरकरार है। स्थिति बहुत ही नाजुक और गंभीर है। वहीं हमारे जवानों का मनोबल काफी ऊंचा है और वो हर तरह की परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं।

सेनाध्यक्ष ने कहा, ‘मैंने लेह पहुंचने के बाद विभिन्न स्थानों का दौरा किया। मैंने अधिकारियों, जेसीओ से बात की और तैयारियों का जायजा लिया। जवानों का मनोबल ऊंचा है और वे सभी चुनौतियों से निपटने के लिए तैयार हैं।’ जनरल नरवणे ने कहा, ‘एलएसी पर स्थिति थोड़ी तनावपूर्ण है। एलएसी पर स्थिति नाजुक और गंभीर है। स्थिति को ध्यान में रखते हुए, हमने अपनी रक्षा और सुरक्षा के लिए एहतियाती कदम उठाए हैं ताकि हमारी सुरक्षा और अखंडता की रक्षा हो सके। हम बातचीत के जरिए स्थिति से निपटेंगे।’

सेनाध्यक्ष ने कहा कि जवान पूरी तरह से सक्षम हैं। उनका मनोबल ऊंचा है और वे किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। मैं फिर से दोहराना चाहूंगा कि हमारे अधिकारी और पुरुष दुनिया में सबसे अच्छे हैं। वे न केवल सेना को बल्कि देश को भी गौरवान्वित करेंगे।

चीन के साथ सैन्य और राजनयिक स्तर की वार्ता को लेकर उन्होंने कहा, ‘पिछले दो-तीन महीनों से स्थिति तनावपूर्ण है लेकिन हम चीन के साथ सैन्य और राजनयिक दोनों स्तरों पर लगातार बातचीत कर रहे हैं। ये बातचीत जारी है और भविष्य में भी जारी रहेगी।’

सेनाध्यक्ष ने एलएसी पर जारी वर्तमान स्थिति को लेकर कहा, ‘हमें पूरा यकीन है कि इस वार्ता के माध्यम से, हम अपने बीच जारी सभी मतभेदों को दूर कर लेंगे। हम यह सुनिश्चित करेंगे कि यथास्थिति में किसी तरह का बदलाव न किया जाए और हम अपने हितों की रक्षा करने में सक्षम हैं।’