जम्मू के कई नेताओं को आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन ने दी धमकी

जम्मू कश्मीर में शनिवार को जम्मू के कई नेताओं को आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन ने धमकी दी है। इनमें भाजपा, कांग्रेस, नेकां समेत कई नेताओं को सियासी गतिविधियां छोड़ने की धमकी दी गई। पत्र में कहा गया है कि अगर वे ऐसी गतिविधियों को जारी रखेंगे तो उन्हें गंभीर परिणाम भुगतने होंगे।

यह पत्र कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष रमण भल्ला को उनके पार्टी मुख्यालय में दोपहर बाद हासिल हुआ। पत्र मिलने के बाद उन्होंने पीर मिट्ठा पुलिस में इसकी शिकायत की। पीर मिट्ठा पुलिस ने भी इसकी पुष्टि की है।  उर्दू में यह पत्र हिजबुल मुजाहिदीन के लैटर पैड पर लिखा गया है। पत्र में लिखा गया है हमारा अभियान पंचायत के नेताओं की हत्या से शुरू हो चुका है। लेकिन आप लोग अपनी सियासी गतिविधियों से हमारे बीच में रुकावट बन रहे हैं।

अगर आप सियासी गतिविधियां छोड़ देंगे तो हम आपको माफ करने की कोशिश करेंगे। हम किसी को बिना बताए नुकसान नहीं पहुंचाते हैं, इसलिए हम आपको आगाह कर रहे हैं। भल्ला ने बताया कि उन्हें पार्टी मुख्यालय में शनिवार दोपहर बाद यह पत्र हासिल हुआ जो उनके नाम से पोस्ट किया गया था। पत्र के बारे में एसएसपी और स्थानीय पीरमिट्ठा पुलिस को जानकारी दी गई है।

उन्होंने कहा कि सरकार को नेताओं को पुख्ता सुरक्षा मुहैया करवानी चाहिए। पत्र में अन्य वरिष्ठ नेताओं में पीएमओ में राज्य मंत्री डा. जितेंद्र सिंह, सांसद जुगल किशोर शर्मा, पूर्व उप मुख्यमंत्री डा. निर्मल सिंह, नेकां के संभागीय अध्यक्ष देवेंद्र सिंह राणा, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष रवींद्र रैना, पूर्व मंत्री चौधरी लाल सिंह, सुनील शर्मा व शक्ति परिहार, पैंथर्स नेता हर्ष देव सिंह और भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष रवींद्र रैना को भी धमकी दी गई है।

यहां भी पढ़े
पाकिस्तान आतंकवादियों की भारत में घुसपैठ भूमिगत सुरंगों का इस्तेमाल से कर रहा: डीजीपी