शिमला: रेलवे स्टेशन में तैनात कांस्टेबल पूर्णानंद को ब्रेवरी अवार्ड से नवाजा गया

रेलवे स्टेशन शिमला में तैनात कांस्टेबल पूर्णानंद को रेलवे मिनिस्टर्स मेडल फॉर ब्रेवरी अवार्ड से नवाजा गया है। पुरस्कार स्वरूप पूर्णानंद को रेलवे की ओर से नकद एक लाख रुपये की राशि दी गई है। मंडल रेल प्रबंधक गुरिंद्र मोहन सिंह ने कांस्टेबल पूर्णानंद के लिए सराहना स्वरूप पुरस्कार के लिए उच्च अधिकारियों को अनुशंसा की थी। शिमला रेलवे स्टेशन के आरपीएफ प्रभारी शेर सिंह ने बताया कि साल 2019 में कांस्टेबल पूर्णानंद रात्रि ड्यूटी पर स्टेशन परिसर में तैनात थे।
इस बीच, एक चोर रेलवे स्टेशन परिसर में चोरी के इरादे से दाखिल हुआ। कांस्टेबल ने उसे देखा तो पकड़ने के लिए पीछे दौड़ लगाई। चोर ने चाकू से पूर्णानंद की छाती पर तीन वार किए। लहूलुहान हालत में भी कांस्टेबल ने करीब 50 मीटर तक चोर का पीछा किया। अंधेरे का फायदा उठाकर चोर भागने में कामयाब रहा, लेकिन कांस्टेबल ने उसका चेहरा पहचान लिया था। इसी बिनाह पर चोर को पकड़ने में कामयाबी मिली। अपनी जान की फिक्र किए बिना रेलवे संपत्ति की रक्षा करने पर कांस्टेबल पूर्णानंद को ब्रेवरी अवार्ड से सम्मानित किया गया है।