रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर का फाइनल में पहुंचने का सपना टुटा, सनराइजर्स हैदराबाद छह विकेट से जीता मैच

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर का चार साल बाद आईपीएल के फाइनल में पहुंचने का सपना शुक्रवार को टूट गया। सनराइजर्स हैदराबाद ने अबू धाबी में खेले गए एलिमिनेटर मुकाबले में छह विकेट की जीत के साथ क्वालिफायर्स-2 में प्रवेश कर लिया। अब रविवार को उसका सामना दिल्ली कैपिटल्स से होगा जो क्वालिफायर्स-1 में मुंबई से हार गई थी।
बैंगलोर की पांचवीं हार  
दरअसल महत्वपूर्ण टॉस हारने के बाद बैंगलोर की टीम एबी डीविलियर्स (56) की पारी के बावजूद 7 विकेट पर 131 रन ही बना पाई थी। हालांकि बैंगलोर के गेंदबाज मैच को अंतिम ओवर तक ले आए थे लेकिन केन विलियमसन (50*) और जेसन होल्डर (24*) ने 65 रन की नाबाद साझेदारी से 19.4 ओवर में 4 विकेट पर जीत दिला दी।
अंतिम ओवर में जीता हैदराबाद 
हैदराबाद को जीत के लिए अंतिम ओवर में नौ रन और अंतिम चार गेंदों पर आठ रन चाहिए थे और होल्डर ने लगातार दो चौके जड़ दिए। बैंगलोर की यह लगातार पांचवीं हार रही जबकि हैदराबाद ने जीत का चौका लगाया। विलियमसन की यह आईपीएल में कुल 14वीं अर्द्धशतकीय पारी रही।
डीविलियर्स के अर्द्धशतक पर पानी फिरा 
इससे पहले निमंत्रण पाकर उतरी बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली (06) ओपनिंग पर उतरे लेकिन दूसरे ही ओवर में आउट हो गए। देवदत्त पडिक्कल (01) भी जल्द आउट हो गए। तेज गेंदबाज जेसन होल्डर (3/25) ने अपने पहले दो ओवरों में दो विकेट ले लिए थे। पावरप्ले में आरसीबी का स्कोर दो विकेट पर 32 रन था। डीविलियर्स और फिंच (32) ने तीसरे विकेट पर 41 रन जोड़े जो इस पारी की श्रेष्ठ साझेदारी रही। डीविलियर्स ने शिवम दुबे (08) के साथ पांचवें विकेट पर भी 37 रन जोड़े। डीविलियर्स ने 43 गेंदों पर 56 रन बनाए जिसमें पांच चौके थे लेकिन उनकी पारी टीम के काम न आ सकी।