पीएम मोदी ने इस साल भी जवानों संग दिवाली मनाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2014 में पहली बार पीएम बनने के बाद से ही हर साल दिवाली का त्योहार जवानों संग मनाते रहे हैं। हर साल की तरह इस साल भी पीएम मोदी जवानों संग दिवाली मनाने के लिए जवानों के बीच पहुंचे हैं। इस बार वे राजस्थान की जैसलमेर सीमा पर स्थित लोंगेवाला पोस्ट पर पहुंचे हैं।
लोंगेवाला पोस्ट को रणनीतिक रूप से काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। दरअसल, लोंगेवाला वही जगह है, जहां पर 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध में 120 भारतीय शूरवीरों ने पाक सेना को मुंहतोड़ जवाब देते हुए उसकी कई टैंक टुकड़ियों को नेस्तनाबूद कर दिया था। इसे दुनिया के सबसे भयानक टैंक युद्धों में से एक माना जाता है।

जैसलमेर की पश्चिमी सीमा पर स्थित लोंगेवाला एक रणनीतिक पोस्ट है, जहां भारत और पाकिस्तान के बीच 1971 में युद्ध हुआ था। इस युद्ध को ‘लोंगेवाला की लड़ाई’ या ‘लोंगेवाला का युद्ध’ के रूप में जाना जाता है। इस पोस्ट पर 120 भारतीय जवानों की टुकड़ी ने पाकिस्तान के 2000 सैनिकों से लोहा लिया था। साथ ही पाक सेना के टैंकों को ध्वस्त कर दिया था।

लोंगेवाला युद्ध पश्चिमी क्षेत्र में लड़ा गया पहला बड़ा युद्ध था, जिसमें भारतीय जवानों ने पाक की नापाक हरकत का मुंहतोड़ जवाब दिया था। पाकिस्तानी सेना 1971 के युद्ध में टैंकों से लैस होकर जैसलमेर वाले क्षेत्र में कब्जा करना चाहती थी, लेकिन भारतीय शूरवीरों ने उन्हें मुंहतोड़ जवाब देते हुए उनके मंसूबों को पूरी तरह नाकाम कर दिया।