म्यांमार : चुनाव आयोग की गतिविधियां संदेहास्पद – जनरल मिन ओंग हलेंग

म्‍यांमा की प्रतिरक्षा सेनाओं के प्रमुख कमांडर सीनियर जनरल मिन ओंग हलेंग ने कहा है कि देश की असैनिक सरकार ने आगामी आठ नवम्‍बर को होने वाले चुनाव की तैयारियों में ऐसी गलतियां की हैं जिन्‍हें कभी स्‍वीकार नहीं किया जा सकता। एक स्‍थानीय समाचार चैनल को इंटरव्‍यू में सेना प्रमुख ने कहा कि कुछ विपक्षी पार्टियों ने मतदाता सूचियों में अनियमितताओं की शिकायत की थी जिन पर ध्‍यान दिया जाना चाहिए था।

सेना प्रमुख ने मतदाता सूचियां तैयार करने में चुनाव आयोग के प्रमुख की भूमिका की भी आलोचना करते हुए स्‍पष्‍ट किया है कि चुनाव आयोग की गतिविधियों के लिए सरकार ही जिम्‍मेदार है।

एक बयान में सेना ने कहा कि ऐसी कमजोरियां और कमियां नजर आ रहीं हैं जो इससे पहले के चुनावों में कभी नहीं देखी गयी। इनका चुनाव की विश्‍वसनीयता पर बुरा असर पड़ सकता है। म्‍यांमा में आम चुनाव आठ नवम्‍बर को होना है। संसद की करीब ग्‍यारह सौ सीटों के लिए सात हजार उम्‍मीदवार चुनाव मैदान में हैं। संविधान के प्रावधानों के अनुसार कुल सीटों में से 25 प्रतिशत सेना के लिए सुरक्षित हैं।