बहुत से भारतीय दलित, मुस्लिम और आदिवासियों को मानव नहीं माना जाता : राहुल गाँधी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने हाथरस की घटना को लेकर कहा है कि बहुत से भारतीय दलित, मुस्लिम और आदिवासियों को मानव नहीं मानते हैं। यह शर्मनाक है। यह बातें उन्होंने रविवार को एक ट्वीट में कहीं। इसके साथ ही उन्होंने एक वेबसाइट का लेख साझा किया है जिसमें बताया गया है कि पीड़िता दर्द से कराहते हुए बार-बार कह रही थी कि उसके साथ दुष्कर्म किया गया है।

राहुल गांधी ने कहा, ‘शर्मनाक सच्चाई यह है कि कई भारतीय दलित, मुस्लिम और आदिवासियों को मानव नहीं मानते हैं। मुख्यमंत्री और उनकी पुलिस का कहना है कि किसी के साथ दुष्कर्म नहीं हुआ है क्योंकि उनके लिए और कई अन्य भारतीयों के लिए वह कोई नहीं थी।’
राहुल ने जिस लेख को साझा किया है उसमें बताया गया है कि कैसे पीड़िता ऊंची जाति के पड़ोसियों द्वारा अपने साथ जबरदस्ती किए जाने के बारे में बता रही थी। 14 दिनों तक जिंदगी और मौत से लड़ने के बाद पीड़िता ने दम तोड़ दिया और उसका आधी रात को अंतिम संस्कार कर दिया गया। इसके बाद राज्य सरकार ने कहा कि उसके साथ कोई दुराचार नहीं किया गया था।