महाराष्ट्र : अनलॉक 5 के तहत मंदिरों और स्कूलों के खोले जाने की अनुमति नहीं

कोरोना संकट के बीच महाराष्ट्र सरकार ने बुधवार को अनलॉक 5 के तहत अपने नए दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। हालांकि नए आदेश में भी मंदिरों और स्कूलों के खोले जाने की अनुमति नहीं दी गई है। मेट्रो सेवाओं को 15 अक्तूबर से शुरू कर दिया गया है। साथ ही सरकारी और निजी लाइब्रेरी भी खोले जा सकेंगे। महाराष्ट्र में अनलॉक को लेकर नए गाइडलाइन जारी किए गए हैं, जिसमें मंदिरों, थिएर्ट्स और धार्मिक स्थलों पर लगी पाबंदियों पर कोई ढील नहीं दी गई है। देश के कई अन्य राज्यों में कड़े निर्देशों के साथ सिनेमा हॉल खुलने जा रहे हैं, लेकिन महाराष्ट्र में अभी इस पर पाबंदी लगी हुई है। स्कूलों और शैक्षणिक संस्थानों पर भी पाबंदी लगी हुई हैं और अनलॉक के नए गाइडलाइन में भी इसके फिर से खोलने पर कोई फैसला नहीं लिया गया है। हालांकि अध्यापक 50 फीसदी क्षमता के साथ स्कूल अटैंड कर सकेंगे।
15 अक्तूबर से मेट्रो सेवाओं को फिर से शुरू करने का फैसला
हालांकि राज्य सरकार ने 15 अक्तूबर से मेट्रो सेवाओं को फिर से शुरू करने का फैसला लिया है। इस संबंध में जरूरी दिशा-निर्देश शहरी विकास विभाग की ओर से जारी किए जाएंगे। सरकार ने सरकारी और निजी लाइब्रेरी को भी खोलने का फैसला लिया है। यह भी गुरुवार से शुरू हो जाएंगे। सरकार ने स्थानीय साप्ताहिक बाजार खोलने की भी अनुमति दे दी है। यह गुरुवार से ही खुलेंगे। हालांकि कंटेनमेंट जोन में यह पाबंदी जारी रहेगी और बाजार इस जोन के बाहर ही खोले जा सकेंगे। उद्धव ठाकरे सरकार ने दुकानों के खोले जाने के समय तय कर दिए हैं और अब यह सुबह नौ बजे से रात नौ बजे तक खुलेंगे। राज्य में बी2बी (बिजनेस टू बिजनेस) प्रदर्शनी भी गुरुवार से खुलेंगे। बिजनेस टू बिजनेस प्रदर्शनी कंटेनमेंट जोन में नहीं खोले जा सकेंगे।