कुल्लू : पुलिस ने की चरस तस्करी के मुख्य आरोपी की 42 लाख की संपत्ति सीज

हिमाचल की जिला कुल्लू में पुलिस ने चरस तस्करी के मुख्य आरोपी की 42 लाख की संपत्ति को सीज किया है। आरोपी के बैंक खाते से 28 लाख का लेनदेन हुआ था। आरोपी बंजार में दर्जी की दुकान चलाता है। बावजूद इसके आरोपी ने 2018 में करीब 8.5 लाख रुपये में कार खरीदी जबकि मई 2019 में पटवार सर्किल चैहणी में 4 बीघा जमीन करीब 7.41 लाख रुपये में खरीदी है। आरोपी ने तीन मंजिला नया घर भी बनाया है।  पुलिस अधीक्षक गौरव सिंह ने कहा कि इतने कम समय में इतनी संपत्ति अर्जित करना व लाखों का लेनदेन आरोपी की आय के अनुरूप नहीं है।

आरोपी की 42 लाख की संपत्ति को सीज व फ्रीज किया गया है। अब तक एनडीपीएस के 10 मामलों में 16 आरोपियों की दो करोड़ 52 लाख रुपये की संपत्ति को जब्त किया जा चुका है। पुलिस के अनुसार 13 जुलाई 2020 को बंजार पुलिस ने 4.766 किलो चरस के साथ आरोपी सुरेंद्र सिंह को पकड़ा था। बाद में पुलिस मुख्य सप्लायर आरोपी नोक सिंह निवासी दाडूधर पुजाली बंजार तक पहुंची। छानबीन में पता चला कि नोक सिंह दूरदराज गांव में अपनी मां, पत्नी और चार बच्चों के साथ रहता है। बंजार में दर्जी की दुकान चलाता है। इसके परिवार में कोई भी सदस्य सरकारी या प्राइवेट नौकरी में नहीं है। कोई बगीचा भी नहीं है। आय का कोई स्थायी साधन नहीं है। बावजूद इसके कम समय में लाखों रुपये की प्रॉपर्टी बना ली है।