कुल्लू: मूसलाधार बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त, रोहतांग दर्रे की ऊंची चोटियों पर गिरे बर्फ के फाहे

कुल्लू जिले में हो रही मूसलाधार बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। जबकि रोहतांग दर्रा के साथ ऊंची चोटियों में बर्फ के फाहे गिरे हैं। ऊंची चोटियों पर बर्फ के फाहे गिरने से मौसम काफी ठंडा हो गया है। सुबह व शाम के समय ऊंचाई वाले क्षेत्रों में काफी ठंड महसूस की जा रही है।

मौसम खराब रहने से जिले में सेब का तुड़ान भी रूक गया है। लगातार हो रही बारिश से व्यास नदी सहित सभी नदी नाले उफान पर हैं। गुरुवार को बागवान सेब का तुड़ान नहीं कर सके। बारिश के चलते जगह-जगह भूस्खलन होने से एक दर्जन के करीब मार्ग प्रभावित हो गए हैं। जिससे लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा है।
विज्ञान केंद्र शिमला ने छह सितंबर तक येलो अलर्ट जारी किया है। ऐसे में प्रशासन ने लोगों को एहतियात बरतने की सलाह दी है। लोगों को नदी-नालों में बढ़े हुए जलस्तर को देखते हुए दूर रहने को कहा गया है। वहीं दूसरी ओर बारिश शुरू होने से लोग घाटी में बादल फटने जैसी घटनाओं को लेकर चिंतित हो गए हैं।