कृषि कानूनों पर बिचौलियों के दलाल की तरह काम कर रहा है विपक्ष : सुरेश कश्यप

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद सुरेश कश्यप ने कहा कि कांग्रेसी असत्य के लिए कर रही है सत्याग्रह, कांग्रेस पार्टी ने हमेशा असत्य के माध्यम से ही सत्ता को हासिल किया है। आज से पहले जब जब कांग्रेस पार्टी सत्ता में आई है तब तब उन्होंने लोगों को केवल झूठे सपने दिखाने का काम किया है पर आज केंद्र या प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी जिस प्रकार काम कर रही है वह सच में धरातल पर जनता के सपनों को साकार कर रही है।

नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे विपक्ष पर प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप ने करारा हमला किया है । प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि विपक्षी पार्टियां बिचौलियों के दलाल की तरह काम कर रही हैं । उन्होंने कहा कि वास्तविक स्थिति यह है कि किसानों को उनके उत्पाद की कम कीमत मिलती है और ग्राहकों को उसके लिए ऊंची कीमत चुकानी पड़ती है । मंडियों में बैठे बिचौलिए कीमत बढ़ा देते हैं और कृषि कानूनों में इन्हीं बिचौलियों की व्यवस्था को खत्म किया गया है । कश्यप ने कहा , ‘ कभी – कभी लगता है कि विपक्षी दल बिचौलियों के बिचौलिया बन गए हैं । ‘ उन्होंने कहा कि कृषि कानूनों पर विरोध अपने आप खत्म हो जाएगा , क्योंकि झूठ की लंबी जिंदगी नहीं होती । देश में 60 फीसद आबादी खेती से जुड़ी है , लेकिन सकल घरेलू उत्पाद ( जीडीपी ) में उनकी भागीदारी 10-15 फीसद है और इसे ही बढ़ाना है । कश्यप ने कहा , ‘ कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने कृषि विधेयकों के खिलाफ विरोध अभियान शुरू किया था । मैं इनसे पूछना चाहता हूं कि वे अपने घोषणापत्र को देखें । पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने अपने भाषणों में इस तह के कृषि सुधारों की बात कही थी । लेकिन अब कांग्रेस पूरी तरह से पलट गई है । उन्होंने कहा कि विपक्ष यह भ्रम फैला हा है कि नए कानून में कृषि उत्पाद विपणन समितियां ( एपीएमसी बंद हो जाएंगी और सरकार अनाज खरीदना बंद कर देगी या न्यूनतम समर्थन मूल्य ( एमएसपी ) को खत्म कर दिया जाएगा । सारी बातें झूठ हैं ।